Lockdown: 3 दिन में चली 100 किलोमीटर, घर लौट रही आदिवासी बच्ची का रास्ते में टूटा दम

जमलो ने बीजापुर बॉर्डर (Bijapur District Border) पर सुबह के करीब 8 बजे दम तोड़ा. साथ के लोग उसके परिवार से संपर्क नहीं कर पाए क्योंकि ग्रुप में केवल एक ही के पास फोन था और उसकी बैटरी भी खत्म हो चुकी थी.