हाथ आए मौके को भुनाना कोई मयंक अग्रवाल से सीखे

विशाखापट्टनम टेस्ट का दूसरा दिन मयंक ने अपने नाम कर लिया. जो खिलाड़ी पहले शतक के लिए इंतजार कर रहा था, उसे जश्न मनाने का दोहरा मौका मिला. मयंक के दोहरे शतक की बदौलत टीम इंडिया ने 400 का आंकड़ा पार कर लिया.