निर्भया गैंगरेप केस: सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की दोषी पवन की क्यूरेटिव पिटीशन

पवन ने शुक्रवार की शाम सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी. उसके बाद शनिवार को उस याचिका को आधार बनाकर उसने पटियाला हाउस अदालत में अर्जी देकर 3 मार्च का डेथ वारंट निरस्त करने की मांग की.

फूट-फूट कर रोईं निर्भया की मां, कहा- ”कोर्ट को दोषियों के हथकंडे समझने होंगे”

निर्भया की मां ने पूछा, 'मेरे अधिकार का क्या हुआ? मैं अब हाथ जोड़कर खड़ी हूं, कृपया दोषियों के खिलाफ एक नया डेथ वारंट जारी किया जाए. मैं भी इंसान हूं. इस केस को सात साल से ज्यादा हो गए हैं.' यह बोलकर निर्भया की मां फूट-फूटकर रोने लगीं.'

निर्भया गैंगरेप मामला : SC में नहीं चला दोषी मुकेश का आखिरी पैंतरा, अब फांसी पक्‍की

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि 'राष्ट्रपति ने योग्यता के आधार पर दया याचिका खारिज की.' SC के मुताबिक, मुकेश की याचिका में कोई आधार नहीं है.

निर्भया केस : दोषी के पिता ने गवाह के खिलाफ लगाई याचिका, वकील नहीं दे पाए कोर्ट में जवाब

याचिका में कहा गया है कि पीड़िता का दोस्त और उसकी गवाही जिसपर सभी दोषियों को फांसी की सजा मिली है वो विश्वसनीय नहीं है.

निर्भया केस : तिहाड़ में टोटा तो यूपी से मांगा गया जल्‍लाद, सिर्फ दो हैं जिनमें से एक बीमार

यूपी में केवल दो सक्रिय जल्‍लाद हैं- एक मेरठ में है और दूसरा लखनऊ में. लखनऊ जेल के जल्‍लाद की तबीयत अभी ठीक नहीं है.

निर्भया के दोषियों को फांसी मिलना तय, गृह मंत्रालय ने राष्‍ट्रपति को भेजी दया याचिका

राष्‍ट्रपति के दया याचिका खारिज करते ही निर्भया गैंगरेप केस के सभी आरोपियों को फांसी का रास्‍ता साफ हो जाएगा.

Nirbhaya Case: 7 दिन में नहीं दाखिल की दया याचिका तो फांसी पर लटकाए जाएंगे चारों दोषी

चारों आरोपियों को ट्रायल कोर्ट से मिली फांसी की सजा के खिलाफ याचिका डालने का अधिकार था. उसके बाद रिव्यू-पिटिशन (पुनर्विचार याचिका) भी मुजरिम डाल सकते थे.