सड़कों की बजाय छतों पर पढ़ी जाए नमाज, अलीगढ़ के मुफ्ती का आदेश

मुफ्ती ने पत्रकारों से कहा कि हालांकि सड़कों पर नमाज अदा करने का कोई प्रावधान नहीं है, लेकिन कभी-कभी लोग मस्जिद के अंदर जगह की कमी के कारण ऐसा करते हैं.