पत्थरबाजों के लिए होती है सीक्रेट फंडिंग, हर हफ्ते मिटा देते हैं रिकॉर्ड- गिलानी के सहयोगी ने कोर्ट में कबूला

'गिलानी ने साल 2016 में अपने संगठन तहरीक-ए-हुर्रियत और अन्य दो संगठनों के साथ मिलकर पैलेट्स गन के पीड़ितों के बीच 1 करोड़ रुपये बांटे थे.'