ऑफिस, रेडियो स्‍टेशंस से लेकर रोड प्रोजेक्‍ट्स तक बेचेंगे, कर्ज चुकाने को ये है अनिल अंबानी का प्‍लान

कर्ज का भुगतान करने के लिए कारोबारी अनिल अंबानी अपने रेडियो स्टशनों से लेकर रोड प्रोजेक्ट्स तक फैले कारोबार की सम्पत्तियां बेचने की तैयारी कर रहे हैं.

अनिल अंबानी पर कितना कर्ज बकाया? अब मुंबई हेडक्‍वार्टर बेचने की तैयारी

सूत्रों के मुताबिक हेडक्वॉर्टर बेचने की ज़िम्मेदारी इंटरनैशनल प्रॉपर्टी कंसल्टंसी जेएलएल को मिल सकता है.

राफेल पर कांग्रेस के खिलाफ 5000 करोड़ का मुकदमा वापस लेंगे अनिल अंबानी

अनिल अंबानी की कंपनी एडीएजी ने नेशनल हेराल्ड के खिलाफ दायर याचिका में कहा था कि अखबार ने राफेल विमान डील को लेकर फर्जी और अपमानजनक लेख पब्लिश किए.

अनिल अंबानी की कंपनी से कर मसले के समाधान में नहीं था कोई राजनीतिक हस्तक्षेप: फ्रांस

भारत में फ्रांस के राजदूत अलेक्जेंडर जिगलर का कहना है कि यह समाधन पूरी तरह विधायी और विनियामक रूपरेखा के तहत किया गया, जोकि कर प्रशासन के समान्य कार्य को नियंत्रित करता है.

राफेल सौदे में नया खुलासा, डील के बाद अनिल अंबानी की कंपनी को टैक्स में बड़ी छूट

फ्रांसीसी अखबार Le Monde के मुताबिक टैक्स का निबटारा अक्टूबर-2015 में हुआ है जब भारत के साथ फ्रांस की कंपनी दसॉल्ट एविएशन की राफेल डील को लेकर बातचीत की प्रकिया आगे बढ़ रही थी.

साल 2005 में संपत्ति बंटवारे के बाद से ही नहीं संभल पाए अनिल, मुकेश अंबानी का बढ़ता रहा कारोबार

गैस मामले में सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले और रिलायंस पावर के शेयरों के भाव गिरने से अनिल की चुनौती काफी बढ़ गई. वहीं मुकेश अंबानी धुंधाधार तरीके से मुनाफ़ा बढ़ाते रहे.

अंबानी ब्रदर्स की पूरी कहानी- टूट से मिलन तक का सफर

मुकेश और अनिल अंबानी खटास भरे रिश्ते से निकल एक बार फिर मधुर संबंधों तक पहुंच गए. ये दौर कब शुरू हुआ और कब खत्म .. इसकी पूरी जानकारी दे रहे हैं हम..

अपने तो अपने होते हैं..! बड़े भाई की मदद से अनिल अंबानी ने चुकाया बकाया, कहा- शुक्रिया

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक अनिल अंबानी को मंगलवार तक दूरसंचार उपकरण बनाने वाली स्वीडन की कंपनी एरिक्सन के करीब 550 करोड़ रुपये चुकाने थे, अन्यथा उन्हें न्यायालय की मानहानि के मामले में जेल जाना पड़ता.

अच्छा एक बात समझाओ, इन सब चोरों के नाम मोदी क्यों है? – राहुल गांधी

आगामी लोकसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे पर निशाना साध रही हैं. ऐसे में राहुल गांधी का पीएम मोदी को चोर बुलाने से वे सत्ताधारी पार्टी के निशाने पर आ गए हैं. हालांकि राहुल गांधी ने जो तथ्य सामने रखा है कि सभी चोरों के...