पाकिस्तान में ‘औरत मार्च’ पर घमासान, विरोध पर अड़े कट्टरपंथी

मार्च के खिलाफ दायर याचिका में कहा गया कि यह मार्च 'इस्लामी उसूलों के खिलाफ है. इसका छिपा एजेंडा अश्लीलता और नफरत फैलाना है.