Coronavirus ने China को दिया बड़ा झटका, अधर में लटके अरबों डॉलर वाले BRI Projects

साल 2013 में चीनी राष्ट्रपति शी जिनफिंग (Xi Jinping) ने सत्ता में आने पर BRI की शुरुआत की थी. इसका उद्देश्य सड़क और समुद्री मार्ग से दक्षिणपूर्व एशिया, मध्य एशिया, खाड़ी क्षेत्र, अफ्रीका और यूरोप को जोड़ना है.

हां हम भारतीय ज्‍यादा राष्‍ट्रवादी हैं, इसमें कुछ गलत नहीं: एस जयशंकर

चीन के BRI का मकसद एशिया को यूरोप से जोड़ना है. पाकिस्‍तान और चीन BRI प्रोजेक्‍ट पर साथ काम रहे हैं. पीओके से गुजरने वाला CPEC इसी BRI प्रोजेक्‍ट का हिस्‍सा है.

संकट में CPEC परियोजना, चीन ने पाकिस्तान को किया आगाह; ये है वजह

चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा एक बहुत बड़ी वाणिज्यिक परियोजना है, जिसका उद्देश्य तेल और गैस की कम समय में वितरण करना है.