जिनका कोई नहीं उनकी ‘बुआ’ है यारों, लावारिस लाशों का करती हैं अंतिम संस्कार

जिन लोगों के पास अपने किसी करीबी का अंतिम संस्कार करने के पैसे नहीं होते हीराबाई उनकी मदद करती हैं.