’20वीं सदी की सबसे बड़ी औद्योगिक दुर्घटनाओं में से एक है भोपाल गैस त्रासदी’

उस इलाके में अब भी जहरीले कण मौजूद हैं और हजारों पीड़ित तथा उनकी अगली पीढ़ियां सांस संबंधित बीमारियों से जूझ रही है तथा उनके अंदरुनी अंगों एवं प्रतिरक्षा प्रणाली को नुकसान पहुंचा है.