बस हादसा: देवदूत बनकर आए आर्मी की तैयारी कर रहे दो युवक और ग्रामीण, बचाई 20 लोगों की जान

विशेष हेल्पलाइन नंबर 1800102877 पर भी पीड़ितों के बारे में जानकारी देने की घोषणा की गई. पुलिस द्वारा घायलों और मृतकों की एक सूची भी जारी की गई है.