मुश्किलें कितनीं भी हो, इंसान ने ठान लिया तो नामुमकिन कुछ भी नहीं…कुछ ऐसी ही प्रेरणा देती है ये किताब

अवसाद और आत्महत्या के विरुद्ध वरिष्ठ पत्रकार दयाशंकर मिश्र की मशहूर हुई वेबसीरीज 'डियर जिंदगी- जीवन संवाद' किताब की शक्ल में आ गई.