बसों में मजदूरों से लिए गए 4-4 हजार रुपये, दिल्ली कांग्रेस चीफ ने केजरीवाल सरकार पर लगाए आरोप

दिल्ली कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौधरी ने (Anil Chaudhary) ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है. उन्होंने आरोप लगाया है कि मजदूरों से बसों में 4-4 हजार रुपये लिए गए हैं.

दिल्ली में कांग्रेस निराश, शर्मिष्ठा मुखर्जी ने चिदंबरम से पूछा- किस बात की खुशी मना रहे हैं?

शर्मिष्ठा ने ट्वीट कर चिदंबरम से पूछा है कि क्या हमने बीजेपी को हराने का ठेका आम आदमी पार्टी को दे दिया है? चिदंबरम के ट्वीट का जवाब देते हुए शर्मिष्ठा ने उन पर हमला बोला और पूछा कि उनकी खुशी की वजह क्या है?

Delhi Election Results : AAP को BJP से 15 फीसदी ज्यादा वोट, 62 सीटोंं के साथ फिर से सत्ता में केजरीवाल

70 विधानसभा सीटों में से 60 पर जोरदार जीत हासिल करते हुए आम आदमी पार्टी तीसरी बार सरकार बनाने वाली है. बीजेपी को 7 सीटों पर जीत मिली, वहीं कांग्रेस इसबार भी खाता नहीं खोल सकी.

Delhi Election 2020: पूर्व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन नहीं लड़ेंगे चुनाव!

टीवी9 से बात करते हुए दिल्ली कांग्रेस प्रमुख सुभाष चोपड़ा ने बताया कि हमारे पास कैंडिडेट्स बहुत ज़्यादा थे. इसलिए कई सीनियर्स ने भी वॉलेंट्री विड्रॉल लिया है, ताकि नए लोग को मौका मिल सके.

दिल्‍ली कांग्रेस अध्‍यक्ष बोले- फ्री मिलेगी 600 यूनिट बिजली, केजरीवाल ने कहा- जहां सरकार है, पहले वहां दे दो

दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा ने बुधवार को कहा कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो दिल्ली में 600 यूनिट तक की बिजली मुफ्त मिलेगी.

कांग्रेस नेता ने लगाए ‘प्रियंका चोपड़ा जिंदाबाद’ के नारे, फिर कहा ‘सॉरी’

जब नारे लगाए जा रहे थे तो दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा भी वहां मौजूद थे.

VIDEO: शीला दीक्षित की श्रद्धांजलि सभा में कुर्सी को लेकर आपस में भिड़े कांग्रेस कार्यकर्ता

शीला दीक्षित का 81 साल की उम्र में 20 जुलाई को दिल्ली में निधन हो गया था.

अंतिम सांस लेने से पहले शीला दीक्षित ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से कही थी यह बात…

शीला दीक्षित ने हाल में उत्तर पूर्वी दिल्ली निर्वाचन क्षेत्र से लोकसभा का चुनाव लड़ा था लेकिन वह जीत नहीं पायी थीं.

जिस बस्ती को खाली कराने में छूटने थे पसीने, उसे बिना खटपट खाली कराया…पढ़ें वो आंखों देखा किस्सा

शीला दीक्षित ने बिना किसी आडंबर के विकास को अंजाम दिया. प्रचार कम और काम ज्यादा करने में यकीन रखती थीं. शीला दीक्षित का एक वाकया याद आता है.

जब शीला दीक्षित की आंखों के सामने उड़ गए उनकी कार के परखच्चे, पढ़ें मौत को मात देने वाला किस्सा

चुनाव प्रचार का आखिरी दिन आ गया. आखिरी रैली खत्म हो गई. शीला दीक्षित बिहार के एक सांसद की कार में बैठकर अमृतसर के लिए रवाना हुईं.