घर पर गालियां सुनीं, गांववालों से ताने मगर नहीं डिगी 30 साल की फूलमणि, बदली गांव की सूरत

फूलमणी देवी ने चार महिला राजमिस्त्री की टीम का नेतृत्व किया, जिन्होंने स्वच्छ भारत मिशन के तहत गांव में 125 शौचालय बनवाए हैं.