रोहिंग्या शरणार्थियों को आसरा देने के लिए भारत सरकार ने म्यांमार में बनाए 250 घर

यह प्रोजेक्ट दोनों सरकारों द्वारा साल 2017 में साइन किए गए अग्रीमेंट का हिस्सा था, जिसके तहत पांच सालों में सरकार को 25 मिलियन खर्चा करना था.