‘गांधी-नेहरू परिवार कांग्रेस के लिए ब्रांड इक्विटी, बाकी किसी के लिए पार्टी चलाना मुश्किल’

अधीर रंजन चौधरी ने गांधी-नेहरू परिवार को कांग्रेस के लिए ब्रांड इक्विटी बताया है. उन्होंने अपने बयान को तर्क देकर सिद्ध भी किया है. जानिए उन्होंने क्या कहा..

आपातकाल से पहले और बाद के वो 24 घंटे जिसने लिखी अगले 19 महीनों की कहानी

4 दशकों से भी पहले देश में लागू हुए आपातकाल को आज तक याद किया जाता है. आज ही के दिन 1975 में शुरू हुए उस काले दौर से जुड़े कुछ दिलचस्प किस्से पेश हैं.

बंगाल में राष्ट्रपति शासन की आहट, जानें पहले कब-कब हुई ये कार्रवाई?

पश्चिम बंगाल में राष्ट्रपति शासन लगने के कयास जारी हैं. हर किसी के पास अपने तर्क हैं. इस मौके पर आपको बताते हैं कि पहले कब-कब पश्चिम बंगाल ने राष्ट्रपति शासन देखा है.

वाराणसी और अमेठी पर देश की नज़र, दोनों VVIP सीटों का पूरा गणित जानिए

देश की दो सबसे अहम लोकसभा सीटों वाराणसी और अमेठी पर देश की नज़रें हैं. पीएम मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के गढ़ों का लेते हैं हालचाल.

शत्रुघ्न सिन्हा जिन्ना और कांग्रेस कनेक्शन पर सही तो थे, लेकिन किस खास तथ्य से चूक गए सभी लोग?

शत्रुघ्न सिन्हा ने जिन्ना को कांग्रेस का नेता बताया तो सियासी कोहराम मच गया लेकिन एक तरह शत्रुघ्न सही बात ही कह रहे थे. वहीं इस पूरे हो-हल्ले में एक अहम तथ्य छिपा रह गया जिसे आपको जानना भी ज़रूरी है और कांग्रेसियों को भी.

बीजेपी के मास्टर स्ट्रेटेजिस्ट रहे अरुण शौरी आज सरकार के मास्टर स्पॉइलर कैसे बन गए?

किसी वक्त बीजेपी को तर्क मुहैया कराने वाले अरुण शौरी आज अपने तर्कों से उसे सुप्रीम कोर्ट में घेर रहे हैं. पार्टी के रणनीतिकार की भूमिका से आज करप्शन के क्रूसेडर की भूमिका निभाने की कोशिश कर रहे शौरी की दिलचस्प यात्रा.

एक गांव जहां मशहूर हस्तियां सड़क किनारे बैठ करती हैं दुनियाभर की बातें

जिन हस्तियों से मिलने की बात आप सोच भी नहीं सकते उनसे मुलाकात का ख्वाब यहां सच होता है. शहरों के शोर से दूर इस गांव में सब कुछ है, सिवाय आपाधापी और हंगामे के..