आखिर क्यों पिछले 3 सालों से इंदौर के नाम है स्वच्छता का तमगा? सामने आई वजह

इंदौर नगर निगम की आबादी लगभग 35 लाख है और हर रोज तकरीबन 1,200 टन कचरा निकलता है. कचरे का अलग-अलग तरीकों से निपटारा किया जाता है.

स्वच्छ शहरों की लिस्ट में फिर नंबर वन बना इंदौर, राजकोट दूसरे स्थान पर

उत्तरी जोन में एक लाख तक की आबादी वाले शहरों में उत्तर प्रदेश का गजरौला पहले स्थान पर, पंजाब का रूपनगर दूसरे और पंजाब का ही राजपुरा तीसरे स्थान पर है.