Economic Survey: कमजोर आर्थिक वृद्धि दर, धीमे निवेश से डगमगा रही अर्थव्यवस्था

सर्वेक्षण में कहा गया कि 2019-20 में वृद्धि कम से कम पांच प्रतिशत रहने का अनुमान है. चालू वित्त वर्ष की सितंबर तिमाही में वृद्धि दर घट कर 4.5 प्रतिशत पर आ गई थी.