ई-कॉमर्स कंपनियों को बताना होगा किस देश में बना है प्रोडक्ट, जल्द पॉलिसी लाएगी सरकार!

डीपीआईआईटी (DPIIT) के सचिव गुरुप्रसाद मोहपात्रा ने कहा कि यह मामला मंत्रालय के विचाराधीन है, क्योंकि यह मेक इन इंडिया विजन के अनुकूल है और उपभोक्ता को अधिक विकल्प देता है और जानने का अधिकार कि वह उत्पादन कहां से आया हुआ है.