बाल विवाह और घरेलू हिंसा से लड़कर सेल्वी बनीं दक्षिण भारत की पहली कैब ड्राइवर

14 साल की उम्र में उसकी जबरदस्ती शादी कर दी गई थी. शादी के बाद की जिंदगी सेल्वी के लिए भयानक साबित हुई. सेल्वी को घरेलू हिंसा का सामना करना पड़ा. उसका पति उसे पैसे के लिए गलत काम करने को मजबूर करता था.