‘जय भीम-जय मीम’ के जवाब में VHP का ‘जय वाल्मीकि-जय श्रीराम’ का नारा

चंद्रशेखर रावण (Chandrasekhar Ravana) के संगठन को छोड़कर सभी वाल्मीकि समाज (Valmiki Samaj) के युवाओं ने हिंदू एकता के लिए VHP के साथ मिलकर सनातन धर्म (Sanatan Dharma) की धरोहर को संभालने का संकल्प लिया.