आरोपी को सोशल मीडिया के इस्तेमाल से रोक सकता है कोर्ट, केंद्र और UP सरकार को SC का नोटिस

CJI ने कहा कि हमें नहीं लगता कि यह गलत है, जब सोशल मीडिया (Social Media) पर किसी व्यक्ति की भागीदारी शरारत पैदा करती है. ऐसी स्थिति में तो अदालत कह सकती कि आप उस उपकरण का उपयोग न करें, जिसके जरिए संबंधित व्यक्ति शरारत कर सकता है.