बवाल मचा तब सुधरे, अब आपकी बातचीत नहीं सुन रहे Google, Apple

पिछले महीने सामने आई एक रिपोर्ट में बताया गया था कि गूगल होम स्पीकर्स यूजर्स की बातचीत को रिकॉर्ड करता है. 

नई दिल्ली: गूगल और एप्पल ने विवादों का सामना करने के बाद अब यूजर्स की बातचीत को सुनना बंद कर दिया है. एप्पल ने जहां उस कार्यक्रम को स्थगित कर दिया है, जिसमें उसकी वर्चुअल असिस्टेंट सिरी यूजर्स की रिकार्डिग्स को क्वालिटी कंट्रोल के लिए सुना करती थी, जबकि गूगल ने यूरोप में गूगल असिस्टेंट की रिकार्डिग को सुनना और ट्रांसक्राइब करना बंद कर दिया है.

बेल्जियम की ब्राडकास्टर वीआरटी न्यूज की पिछले महीने की रिपोर्ट में बताया गया था कि गूगल होम स्पीकर्स यूजर्स की बातचीत को रिकॉर्ड करता है.  इन ऑडियो क्लिप्स को उप-ठेकेदारों को भेजता है, जो उन ऑडियो फाइल्स को रिकॉर्ड करते हैं, ताकि गूगल स्पीच रिकॉगनिशन टेक्नॉलजी में सुधार किया जा सके, जिस कारण निजता को लेकर गंभीर चिंता व्याप्त हो गई थी.

आईफोन निर्माता भी ठेकेदारों को सिरी द्वारा रिकॉर्ड की गई बातचीत को सुनने और जमा करने के लिए भुगतान करती थी. पिछले हफ्ते एक रिपोर्ट जारी की गई थी, जिसमें आईफोन निर्माता के एक पूर्व ठेकेदार ने दावा किया था कि सिरी द्वारा रिकॉर्ड बातचीत को विभिन्न कारकों के हिसाब से ग्रेड करने को कहा गया था, जिसे वह सुनकर करता था.

टेकक्रंच की रिपोर्ट के अनुसार, गूगल के एक प्रवक्ता ने इस मामले पर बात करते हुए कहा, ‘भाषा समीक्षा’ रोक दी गई है, जबकि एप्पल ने कहा कि वह भविष्य में एक सॉफ्टवेयर अपडेट जारी करेगा, जिससे सिरी यूजर्स यह चुन पाएंगे कि क्या वह ग्रेडिंग प्रक्रिया में भाग लेना चाहेंगे या नहीं”

 

ये भी पढ़ें-   WhatsApp पर खूब मेसेज फॉरवर्ड करते हैं? आपके लिए ही आया है ये नया फीचर

IBM ने ‘कूल’ दिखने के चक्‍कर में एक लाख कर्मचारियों को नौकरी से निकाला!