चीन की गेमिंग इंडस्ट्री को लगा झटका, एपल ने चीनी प्लेटफॉर्म से हटाए 29,800 एप

सेंसर टावर (SensorTower ) के आंकड़ों के मुताबिक, चीन एपल का सबसे बड़ा एप स्टोर बाजार है, जिसकी बिक्री 16.4 बिलियन डालर प्रति वर्ष है.
Chinese app store, चीन की गेमिंग इंडस्ट्री को लगा झटका, एपल ने चीनी प्लेटफॉर्म से हटाए 29,800 एप

जानी मानी टेक कंपनी एपल (Apple) ने शनिवार को चीनी एप स्टोर (Chinese app store) से कम से कम 29,800 एप्स को हटा दिया है. रिसर्च फर्म किमाई (Qimai) के आंकड़ों के अनुसार, इनमें 26,000 से अधिक गेमिंग एप शामिल हैं. एपल ने ये फैसला चीन के एप अप्रूवल लाइसेंस में आ रही कमी की वजह से किया है. इससे पहले कंपनी ने चीनी प्लेटफॉर्म पर एप अपडेट को भी सस्पेंड कर दिया था.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

नए नियमों में गेम डेवलपर्स को चीन के एप स्टोर में अपने एप अपलोड करने से पहले चीनी रिगुलेटर्स से अप्रूवल लेना जरूरी है.

एपल चाइना के मार्केटिंग मैनेजर टॉड कुहन्स (Todd Kuhn) ने कहा, “1 जुलाई से चीनी सरकार के नए नियम से हम प्रतिदिन कई गेम एप्स को अपने स्टोर से हटा रहे हैं. अफसोस की बात यह है कि चीन केवल साल में लगभग 1,500 गेम लाइसेंस को मंजूरी देता है और इस प्रक्रिया में छह से 12 महीने लगते हैं, जिससे एप को स्टोर तक अपलोड होने में काफी वक्त लग जाता है. हमने 1 जुलाई को 1,571, 2 जुलाई को 1,805 और 3 जुलाई को 1,276 गेम एप्स को अपने स्टोर से हटाया है.”

उन्होंने कहा, “यह छोटे और मध्यम आकार के डेवलपर्स की आय को सबसे अधिक प्रभावित करता है, लेकिन बिजनेस लाइसेंस के लिए आ रही दिक्कतों की वजह से यह चीन की iOS गेमिंग इंडस्ट्री के लिए नुकसानदायक है.”

सेंसर टावर (SensorTower ) के आंकड़ों के मुताबिक, चीन एपल का सबसे बड़ा एप स्टोर बाजार है, जिसकी बिक्री 16.4 बिलियन डालर प्रति वर्ष है. वहीं अमेरिका में 15.4 बिलियन डालर हैं. वर्तमान में एपल चीन में लगभग 60,000 गेम्स को होस्ट करता है, इन सभी एप्स को डाउनलोड करने के लिए यूजर्स को इन्हें खरीदना पड़ता है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts