ऐप ने नाशपाती को बनाया लोगो, Apple ने जताया विरोध, कहा- लोग कंफ्यूज हो जाएंगे

क्या कोई नाशपाती को देखकर सेब समझ सकता है? ऐपल कंपनी को ऐसा लगता है. उसने एक कंपनी को नोटिस भेजा है. ऐपल कंपनी चाहती है कि नाशपाती को वह कंपनी अपने ऐप का लोगों न बनाए.
apple notice to Prepear, ऐप ने नाशपाती को बनाया लोगो, Apple ने जताया विरोध, कहा- लोग कंफ्यूज हो जाएंगे

क्या आप भी नाशपाती और सेब को देखकर कंफ्यूज हो जाते है? अगर आपको यह सवाल अजीब लग रहा है तो ऐपल कंपनी का दावा भी कुछ ऐसा ही लगेगा. दरअसल ऐपल कंपनी एक रेसपी ऐप को लोगो के तौर पर नाशपाती (apple notice to Prepear) लगाने से रोकना चाहती है. ऐपल कंपनी का कहना है कि यह लोगों को कंफ्यूज कर देगा.

ऐपल कंपनी ने ऐप को अमेरिका में नोटिस जारी किया है. नोटिस लेनहैम ऐक्ट के तहत जारी किया गया है. अमेरिका में लेनहैम ऐक्ट के तहत ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन होता है. बता दें कि अमेरिका में सुपर हेल्दी किड्स नाम की कंपनी ने प्रिपीयर नाम से ऐप बनाया है. इसका लोगो नाशपाती वाला है, जिसपर विवाद है.

ऐपल ने अपने नोटिस में कहा है कि प्रिपीयर ऐप को देखकर लोग कन्फ्यूज हो जाएंगे कि यह ऐपल का ऐप है. अब प्रिपीयर के को फाउंडर ने ऐपल के खिलाफ मुहिम शुरू कर दी है. इसे अबतक 14,000 साइन मिल चुके हैं. इसे नाशपाती को सेब से बचाएं (Save the Pear from Apple) नाम से चलाया जा रहा है.

को फाउंडर लिखते हैं कि उनकी कंपनी काफी छोटी है और वह ऐपल जैसी बड़ी कंपनी के खिलाफ लीगल लड़ाई में नहीं जीत सकती, इसलिए लोगों को उनकी मदद करनी चाहिए.

ऐपल ने पहले भी किया है ऐसा
ऐपल पहले भी ऐसा कर चुका है. 2019 में ऐपल ने नॉर्वे की कंपनी पर केस किया था. इसके बाद जर्मनी की कंपनी पर ऐसा ही केस किया गया था. फिलहाल ऐपल की पूरी कोशिश है कि प्रिपीयर को ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन न मिले.

Related Posts