साइबर सिक्योरिटी कंपनी का दावा, इंटरनेट पर 2.9 करोड़ भारतीयों का पर्सनल डाटा लीक

डाटा लीक की गंभीरता की पुष्टि करते हुए साइबल ने कहा है कि साइबर क्राइम की दुनिया के लोग इस तरह के डेटा (Personal data) की तलाश में रहते हैं, जिससे पहचान संबंधी या घोटाले और साइबर फ्रॉड (Cyber Fraud) को अंजाम दिया जा सके.
hacking, hackers, baltimore, ransomware, RobbinHood, EternalBlue

साइबर सिक्योरिटी (cybersecurity) से जुड़ा एक बड़ा मामला सामने आया है जिसमें 2.9 करोड़ भारतीयों के पर्सनल डाटा (Personal data) के इंटरनेट पर लीक होने की बात कही गई है. साइबर सिक्योरिटी फर्म साइबल (Cyble) ने दावा किया है कि 29 मिलियन (2.9 करोड़) भारतीयों के पर्सनल डाटा को डार्क वेब (Dark Web) पर मुफ्त में लीक कर दिया गया है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

ऑनलाइन मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक साइबर सिक्योरिटी फर्म ने अपने ब्लॉग पोस्ट में ये दावा किया है कि ये डाटा 2.3 जीबी की जिप्ड फाइल में डाला गया. इस डेटा में नौकरी की चाह रखने वालों के फोन नंबर, इमेल आईडी, पता, कार्य अनुभव समेत व्यक्तिगत जानकारी साझा की गई है, इसमें देश के कई राज्यों के लोग शामिल हैं.

डाटा लीक की गंभीरता की पुष्टि करते हुए साइबल ने कहा है कि साइबर क्राइम की दुनिया के लोग इस तरह के डेटा (Personal data) की तलाश में रहते हैं, जिससे पहचान संबंधी, या घोटाले और साइबर फ्रॉड (Cyber Fraud) को अंजाम दिया जा सके. इससे पहले साइबल फेसबुक और सिकोइया द्वारा फंडिंग की जाने वाले Uuacademy की हैंकिंग के बारे में भी खुलासा कर चुकी है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts