G Pay ने भारत में रिक्‍शेवाले तक को पेमेंट करना आसान किया, ऐसा ही ग्‍लोबल प्रोडक्‍ट लाएगा गूगल: पिचाई

सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) ने भारत के डिजिटाइजेशन फंड के लिए एक अहम घोषणा की है. कंपनी भारत में डिजिटाइजेशन को बढ़ावा देने के लिए अगले पांच से सात सालों में 75 हजार करोड़ रुपये का निवेश करेगी.
India-exclusive G Pay, G Pay ने भारत में रिक्‍शेवाले तक को पेमेंट करना आसान किया, ऐसा ही ग्‍लोबल प्रोडक्‍ट लाएगा गूगल: पिचाई

Google एक ग्लोबल पेमेंट प्रोडक्ट पर काम कर रहा है जो उसके इंडिया-एक्सक्लूसिव G Pay प्लेटफॉर्म पर आधारित होगा. Google for India 2020 इवेंट के दौरान Google और Alphabet के सीईओ सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) ने कहा कि भारत पेमेंट्स को डिजिटल बनाने के लिए ग्लोबल स्टैण्डर्ड सेट कर रहा है. उन्होंने कहा कि भारत के पहले प्रोडक्ट के निर्माण से कंपनी को ग्लोबल मार्केंटिंग के लिए बेहतर प्रोडक्ट्स के साथ आने में मदद मिली है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

उन्होंने कहा, “हालिया उदाहरण GPay है, जो ऑनलाइन पेमेंट्स का हमारा तेज और आसान तरीका है. BHIM-UPI के बढ़ते इस्तेमाल के साथ GPay के जरिए आप रिक्शावाले को आसानी से पैसे दे सकते हैं या फिर घर-परिवार में पैसे भेज सकते हैं. भारत ग्लोबल स्टैण्डर्ड सेट कर रहा है कि कैसे पेमेंट्स को डिजिटल बनाया जाए और अब यह हमें एक ग्लोबल प्रोडक्ट बनाने में मदद कर रहा है.”

Google ने की भारत के डिजिटल पेमेंट प्लेटफॉर्म की सिफारिश 

पिचाई की टिप्पणी दिसंबर की एक रिपोर्ट के अनुसार है जिसमें Google ने भारत के UPI बेस्ड डिजिटल पेमेंट-जैसे प्लेटफॉर्म की अमेरिकी रिजर्व बैंक के बोर्ड से सिफारिश की थी. Google ने फास्ट डिजिटल पेमेंट्स के लिए “FedNow” नामक एक प्लेटफॉर्म- तेजी से डिजिटल पेमेंट के लिए एक रियल टाइम इंटरबैंक ग्रॉस सेटलमेंट सर्विस (RTGS) पर जोर दिया था. बोर्ड को लिखे गए लेटर में, Google ने अपनी इस प्लानिंग और उसके एग्जीक्यूशन के लिए भारत की UPI का नाम सुझाया था.

भारत में 75,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी गूगल

सुंदर पिचाई ने सोमवार को भारत के डिजिटाइजेशन फंड के लिए एक अहम घोषणा की है. कंपनी भारत में डिजिटाइजेशन को बढ़ावा देने के लिए अगले पांच से सात सालों में 75 हजार करोड़ रुपये का निवेश करेगी. पिचाई ने गूगल फॉर इंडिया वर्चुअल कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, “हम भारत में इक्विटी निवेश, साझेदारी और एक ऑपरेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर इकोसिस्टम के जरिए ये निवेश करेंगे.”

भारत के डिजिटीकरण के लिए महत्वपूर्ण चार क्षेत्रों पर फोकस

यह निवेश भारत के डिजिटाइजेशन के लिए महत्वपूर्ण चार क्षेत्रों पर फोकस करेगा. गूगल के सीईओ ने बताया, “इसमें पहला, प्रत्येक भारतीय को उसकी भाषा में कम कीमत में सूचना उपलब्ध कराना. दूसरा, नए प्रोडक्ट्स और सर्विस डेवलप करना जो भारत की जरूरतों के मुताबिक हो. तीसरा, व्यवसायों को डिजिटल ट्रांसफर्मेशन पर जारी रखना और अधिक सशक्त बनाना. चौथा, स्वास्थ्य और कृषि और शिक्षा जैसे क्षेत्रों में प्रौद्योगिकी और कृत्रिम बुद्धिमत्ता का लाभ देना.”

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts