‘कॉपी-पेस्ट’ के जनक Larry Tesler नहीं रहे, इनकी रिसर्च के Steve Jobs भी थे फैन

कंप्यूटर में Ctrl+C और Ctrl+V कमांड का आविष्कार करने वाले सॉफ्टवेयर इंजीनियर लॉरी टेस्लर (Larry Tesler) नहीं रहे. 74 साल की उम्र में उनका निधन हो गया.
copy and paste father Larry Tesler dies, ‘कॉपी-पेस्ट’ के जनक Larry Tesler नहीं रहे, इनकी रिसर्च के Steve Jobs भी थे फैन

कीबोर्ड पर स्पेस बार के अलावा जो कीज़ सबसे ज्यादा इस्तेमाल होती हैं वोह हैं Ctrl+C और Ctrl+V. कंट्रोल सी से फाइल या टेक्स्ट को कॉपी किया जाता है और कंट्रोल वी से उसे किसी और जगह पर पेस्ट किया जाता है. कंप्यूटर में इस कमांड का आविष्कार करने वाले सॉफ्टवेयर इंजीनियर लॉरी टेस्लर (Larry Tesler) नहीं रहे. 74 साल की उम्र में उनका निधन हो गया है.

लॉरी टेस्लर 1945 में अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में जन्मे थे. कैलिफोर्निया के स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की डिग्री लेकर कंप्यूटर के इंटरफेस डिजाइन का काम शुरू कर दिया. टेस्लर ने कंप्यूटर इंजीनियर का काम 1960 में शुरू किया था. अमेरिका की सिलिकॉन वैली में काम करते हुए उन्होंने कॉपी और पेस्ट को आसान करने के लिए कंट्रोल सी और कंट्रोल ली कमांड बनाया.

टेस्लर ने अपना पूरा जीवन कंप्यूटर इंजीनियरिंग में लगा दिया और कई टेक कंपनियों में काम किया. जेरॉक्स अल्टो रिसर्च सेंटर में काम करते वक्त Apple के को फाउंडर स्टीव जॉब्स Steve Jobs ने बुला लिया. एप्पल में टेस्लर ने तकरीबन 17 साल रिसर्च का काम किया. उसके बाद कुछ दिन अमेजन और याहू के लिए भी काम किया.

ये भी पढ़ेंः

एक जगह आए 99 मोबाइल्‍स और लग गया ट्रैफिक जाम, Google Maps बना बेवकूफ

Facebook ने रोलआउट किया Clear History Tool, जानें कैसे करेगा काम

Related Posts