Lockdown: माइग्रेंट मजदूरों के सफर और कॉन्टैक्ट पर नजर रखेगा ये नेशनल पोर्टल

होम सेक्रेटरी अजय भल्ला ने शनिवार को सभी मुख्य सचिवों को लेटर लिख उनसे ऑनलाइन पोर्टल NMIS का इस्तेमाल कर प्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) की गतिविधियों पर नज़र रखने और कांटेक्ट ट्रेसिंग (Contact Tracing) पर ध्यान देने के लिए कहा है.
portal for tracing migrant workers, Lockdown: माइग्रेंट मजदूरों के सफर और कॉन्टैक्ट पर नजर रखेगा ये नेशनल पोर्टल

केंद्रीय गृह मंत्रालय के आदेश के बाद लॉकडाउन (Lockdown) के चलते दूसरे राज्यों और शहरों  में फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनें और बसें चलायी जा रही हैं. इनसे यात्रा करने वाले मजदूरों का रिकॉर्ड रखने के लिए नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (NDMA) ने एक सेंट्रल ऑनलाइन पोर्टल बनाया है. इस पोर्टल के जरिए यह ध्यान रखा जा रहा है कि मजदूरों को किसी राज्य में कोई परेशानी ना हो. साथ ही सभी राज्यों को नेशनल माइग्रेंट इनफार्मेशन सिस्टम (NMIS) की मदद से एक दूसरे से संपर्क करने में आसानी होगी.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

होम सेक्रेटरी अजय भल्ला ने शनिवार को सभी मुख्य सचिवों को लेटर लिख उनसे ऑनलाइन पोर्टल NMIS का इस्तेमाल कर प्रवासी मजदूरों की गतिविधियों पर नज़र रखने और कांटेक्ट ट्रेसिंग (Contact Tracing) पर ध्यान देने के लिए कहा है. सभी राज्यों से यात्रा करने वाले सभी मजदूरों के नाम, उम्र, मोबाइल और आधार नंबर, किस राज्य से चले और कहां तक जाएंगे, यात्रा की डेट, साथ में कौन-कौन हैं जैसी सभी जानकारियां इस पोर्टल पर अपलोड करने के लिए कहा गया है.

भल्ला ने कहा, ’सभी राज्यों/ संघ शासित प्रदेशों, रेल मंत्रालय और हायर अथॉरिटीज को इस ऑनलाइन पोर्टल को चलाने की अनुमति होगी. इससे कोरोना संकट के बीच फील्ड ऑफिसर्स का काम आसान हो जाएगा, समय भी कम लगेगा और एक दूसरे से संपर्क करना भी आसान होगा. NMIS की मदद से राज्यों के लिए ट्रेनों/ बसों के संचालन में भी सहूलियत होगी. अबतक 3.5 लाख प्रवासी मजदूर 350 ट्रेनों से अपने घर तक पहुंच चुके हैं, ऐसे में उनकी निगरानी करना भी ज़रूरी है. और यह काम मैन्युअली करना आसान नहीं.’

नेशनल माइग्रेंट इनफार्मेशन सिस्टम पोर्टल पर कई डैशबोर्ड जैसे कि पब्लिक डैशबोर्ड, लोजिस्टिक मैनजमेंट, रिस्क इंडेक्स और क्वारंटीन अलर्ट जैसे हिस्से हैं, जिनकी मदद से राज्य अपने यहां COVID-19 प्रसार पर नज़र रख सकते हैं.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts