Reddit CEO Steve Huffman, रेडिट CEO ने दी TikTok डाउनलोड न करने की सलाह, कहा- स्पाईवेयर जैसा है एप
Reddit CEO Steve Huffman, रेडिट CEO ने दी TikTok डाउनलोड न करने की सलाह, कहा- स्पाईवेयर जैसा है एप

रेडिट CEO ने दी TikTok डाउनलोड न करने की सलाह, कहा- स्पाईवेयर जैसा है एप

एक बार फोन में Spyware इंस्टाल हो गया तो वह ऑपरेटर की कमांड के मुताबिक, कोई भी डेटा इधर-उधर कर सकता है. ऑपरेटर आपकी सभी हरकतों पर नजर भी रख सकता है.
Reddit CEO Steve Huffman, रेडिट CEO ने दी TikTok डाउनलोड न करने की सलाह, कहा- स्पाईवेयर जैसा है एप

अमेरिकी सोशल डिस्कशन वेबसाइट Reditt के CEO स्टीव हफमैन ने नामी वीडियो एप TikTok को स्पाईवेयर करार दिया है. उन्होंने इस तरह की एप्लीकेशन को मैं अपने स्मार्टफोन में इंस्टाल नहीं कर सकता.

टेक क्रंच की एक रिपोर्ट के मुताबिक स्टीव हफमैन ने कहा कि, ये पैरासाइट जैसा एप है, जो आपकी जासूसी करता है और आपको हमेशा सुनता रहता है. अगर आप फोन में बतौर सिक्योरिटी फिंगरप्रिंट फीचर का इस्तेमाल करने हैं तो TikTok इंस्टाल होना और भी खतरनाक है.

स्टीव ने बताया कि, लोग जब भी उनसे TikTok के बारे में बात करते हैं तो मैं उन्हें TikTok एप को फोन में न रखने की सलाह देता हूं.

क्या होता है Spyware

Spyware एक मालवेयर प्रोग्राम है जो किसी दूसरे लिंक या साफ्टवेयर के जरिए आपके सिस्टम (फोन या कंप्यूटर) में इंस्टाल हो जाता है. इसके बाद आपकी सारी जानकारी मालवेयर होस्ट (ऑपरेटर) तक पहुंचाई जाती है. कई बार Spyware का इस्तेमाल आप पर निगरानी रखने के लिए भी किया जाता है.

एक बार फोन में Spyware इंस्टाल हो गया तो वह ऑपरेटर की कमांड के मुताबिक, कोई भी डेटा इधर-उधर कर सकता है. कॉल्‍स, मैसेजेस, कॉन्‍टैक्‍ट्स भेजना तो बेहद आसान काम है. ऑपरेटर चाहे तो यूजर के कैमरा और माइक को एक्टिव कर आपकी सभी हरकतों पर नजर भी रख सकता है.


गौरतलब है ये पहला मामला नहीं है जब TikTok पर कॉन्ट्रोवर्सी चल रही है. TikTok के अश्लील कंटेंट को लेकर भारत में पहले भी विरोध हुए हैं और इस एप को कुछ समय के लिए भारत में बैन किया गया था. एप को गूगल प्ले स्टोर से भी हटाया गया, लेकिन फिर से ये एप धड़ल्ले से यूज किया जा रहा है. TikTok के 34.1% डाउनलोड अकेले भारत में डाउनलोड हुए हैं. वहीं दुनिया भर में इस एप के 100 मिलियन से ज्यादा डाउनलोड हुए हैं.

टिक-टॉक एक चायनीज कंपनी Bytedance का एप है, जो वीडियो पोस्ट के लिए इस्तेमाल होता है. साल 2018 से यह एप लोगों के बीच तेजी से लोकप्रिय हुआ है. बतौर यूजर टीन एज के लोग इसमें ज्यादा हैं. प्राइवेसी पर ध्यान दिए बगैर यूजर इस एप पर बड़ी तेजी के साथ वीडियो पोस्ट करते हैं. इतना ही नहीं वायरल होने के मामले में इस एप ने सभी सोशल मीडिया एप्स को पीछे छोड़ दिया है.

ये भी पढ़ें-  WhatsApp ग्रुप पर दोस्‍तों ने किया ब्‍लॉक, 18 साल के लड़के ने दे दी जान

Reddit CEO Steve Huffman, रेडिट CEO ने दी TikTok डाउनलोड न करने की सलाह, कहा- स्पाईवेयर जैसा है एप
Reddit CEO Steve Huffman, रेडिट CEO ने दी TikTok डाउनलोड न करने की सलाह, कहा- स्पाईवेयर जैसा है एप

Related Posts

Reddit CEO Steve Huffman, रेडिट CEO ने दी TikTok डाउनलोड न करने की सलाह, कहा- स्पाईवेयर जैसा है एप
Reddit CEO Steve Huffman, रेडिट CEO ने दी TikTok डाउनलोड न करने की सलाह, कहा- स्पाईवेयर जैसा है एप