चीनी कंपनी को निकालने के लिए टेलीकॉम मंत्रालय ने रद्द किया BSNL-MTNL का 4G टेंडर

DoT भारत में बने उपकरणों के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए प्राइवेट टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर से बातचीत कर रहा है. नए टेंडर में नए प्रावधान शामिल होंगे.
BSNL-MTNL 4G tender, चीनी कंपनी को निकालने के लिए टेलीकॉम मंत्रालय ने रद्द किया BSNL-MTNL का 4G टेंडर

टेलीकॉम मंत्रालय ने BSNL और MTNL के 4G टेंडर को रद्द कर दिया है ताकि इससे चाइनीज कंपनी को निकाला जा सके. ये टेंडर अब नए सिरे से जारी किया जाएगा. केंद्र सरकार ने BSNL और MTNL को चीनी कंपनियों से सामान न खरीदने की हिदायत दी थी, जिसके बाद टेंडर रद्द किया गया है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

बता दें BSNL और MTNL पर चीनी प्रोडक्ट खरीदने का आरोप था, जिसकी लागत 7,000-8,000 करोड़ रुपये बताई गई है. इस पर टेलीकॉम मंत्रालय ने सरकारी कंपनियों को चीनी सामान खरीदने से परहेज करने को कहा था. इसके अलावा प्राईवेट सर्विस ऑपरेटर्स को भी चाइनीज प्रोडक्ट्स पर तेजी से निर्भरता कम करने के निर्देश दिए गए.

इसके अलावा DoT (Department of Telecommunications) भारत में बने उपकरणों के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए प्राइवेट टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर से बातचीत कर रहा है. नए टेंडर में नए प्रावधान शामिल होंगे जिससे मेक इन इंडिया और इंडियन टेक्नॉलजी को प्रोत्साहन मिल सके.

टेलीकम्यूनिकेशन रेगुलेशन के सलाहकार महेश उप्पल के मुताबिक भारत मोबाइल फोन के दूसरे सबसे बड़े उत्पादक के तौर पर जाना जा सकता है, लेकिन फोन 75 फीसदी इंटरनल पार्ट चीन से आते हैं. इस वजह से अचानक स्विच करना मुश्किल होगा.

हाईवे प्रोजेक्‍ट्स में चीनी कंपनियों की नो एंट्री

भारत और चीन बीच कल रहे तनाव के चलते इंडियन हाइवे प्रोजेक्ट (Indian highway projects) में चीनी कंपनियों को शामिल नहीं किए जाने का फैसला लिया गया है. केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Union Minister Nitin Gadkari) ने ये जानकारी दी है. अगर कोई चाइनीज कंपनी किसी भारतीय या दूसरी कंपनी के साथ जॉइंट वेंचरिंग के जरिए भी बोली लगाएगी तो उसे शामिल नहीं होने की अनुमति नहीं है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts