चीन के लिए एक और बुरी खबर, अमेरिका के बाद ब्रिटेन ने Huawei पर लगाया बैन

डिजिटल सचिव ओलिवर डाउडेन ने कहा, यह हमारे लिए आसान फैसला नहीं है, लेकिन ब्रिटेन दूरसंचार नेटवर्क की राष्ट्रीय सुरक्षा (National Security) और अर्थव्यवस्था के लिए सही फैसला है.
britain ban Huawei 5G network, चीन के लिए एक और बुरी खबर, अमेरिका के बाद ब्रिटेन ने Huawei पर लगाया बैन

दुनियाभर में डेटा सिक्योरिटी को लेकर चीनी कंपनियों के खिलाफ अहम कार्रवाई की जा रही है. हाल ही में भारत ने चीन की 59 चाइनीज ऐप्स को बंद करने अमेरिका ने  हुआवेई पर प्रतिबंध लगाया था. अब ब्रिटेन ने भी चीनी कंपनी हुआवेई (Huawei) पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है.

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Jonson) की सरकार ने हुआवेई 5 जी नेटवर्क को 31 दिसंबर के बाद बैन करने का फैसला किया है. इसके अलावा सरकार ने टेलीकॉम कंपनी को आदेश दिया है कि 2027 तक 5जी नेटवर्क से हुआवेई से के सभी उपकरणों हटा दिया जाए. डिजिटल सचिव ओलिवर डाउडेन ने  हाउस ऑफ कॉमन को इस फैसले के बार में जानकारी दी.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

राष्ट्रीय सुरक्षा के मद्देनजर लिया गया फैसला

ओलिवर डाउडेन ने कहा कि अमेरिका की तरह ब्रिटेन भी राष्ट्रीय सुरक्षा के मद्दनेजर हुआवेई पर प्रतिंबध लगा रहा है. उन्होंने आगे कहा कि इस फैसले से 5जी की दिशा में एक साल की देरी होगी.

उन्होंने आगे कहा, प्रौद्योगिकी की तेजी से फास्ट इंटरनेट स्पीड, वायरलेस कनेक्शन, मोबाइल गेमिंग, बेहतर वीडियो क्वालिटी, यहां तक कि ड्राइवरलेस कारों में एक – दूसरे से बात करना वरदान जैसा होगा. 5 जी कनेक्शन पहले से ही ब्रिटेन के कई शहरों और कस्बों में मौजूद हैं, लेकिन ज्यादा कवरेज नहीं है.

डाउडेन ने आगे कहा, यह हमारे लिए आसान फैसला नहीं है, लेकिन ब्रिटेन दूरसंचार नेटवर्क की राष्ट्रीय सुरक्षा और अर्थव्यवस्था के लिए सही फैसला है.

वहीं हुआवेई ने कहा, ब्रिटेन में जो लोग मोबाइल यूज करते हैं उनके लिए बुरी खबर है. इस फैसले के साथ ब्रिटेन स्लो डिजिटल लेन की तरफ जाएगा, डिजिटल बिल बढ़ जाएंगे. फैसले ने डिजिटल डिवाइड को और गहरा करने का काम किया है. चीनी राजदूत ने कहा, ब्रिटेन का फैसला गलत और निराशाजनक है.

 माइक पोम्पियों ने फैसले का स्वागत किया

वहीं अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियों ने इस फैसले का स्वागत किया है. उन्होंने कहा, ब्रिटेन उन देशों की लिस्ट में शामिल हो गया जो अपनी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए अविश्वसनीय और उच्च जोखिम वाले व्रिकेताओं के सामने खड़ा है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts