गूगल की नई पहल, सर्च को और सुनिश्चित करने के लिए रोजाना कर रहा 1 हजार परीक्षण

इस साल में अब तक लोगों ने गूगल सर्च ( Google Search ) और न्यूज पर 4 अरब से अधिक बार तथ्यों की जांच की है जो 2019 की कुल सर्च की से भी अधिक हैं.

दुनिया भर में लोगों को विश्वसनीय और तेजी से जानकारी उपलब्ध कराने के लिए गूगल अपने सर्च और न्यूज प्लेटफॉर्म पर रोजाना औसतन 1,000 से अधिक परीक्षण कर रहा है. गूगल के वाइस प्रेसिडेंट पांडु नायक ने बताया कि गूगल ने अपने अरबों उपयोगकर्ताओं को उच्च-गुणवत्ता की जानकारी देने के लिए 2017 के बाद से अब तक में 10 लाख से अधिक परीक्षण किए हैं.

बदल रहा सूचना पाने का तरीका

कंपनी की ओऱ से किए गए  ब्लॉग पोस्ट में नायक ने कहा, “हर दिन दुनिया भर में इतनी नई चीजें हो रही हैं कि सूचना का लैंडस्केप जल्दी बदल सकता है. हमने एक इंटेलिजेंस डेस्क विकसित किया है, जो संभावित सूचना की निगरानी और पहचान करके उसके खतरों को पहचानता है, इससे हमें यह समझने में आसानी होती है कि न्यूज ब्रेक होने पर हमारे सिस्टम कैसे प्रदर्शन कर रहे हैं.

ब्रेकिंग न्यूज को पहचानने की झमता में सुधार

इस इंटेलिजेंस डेस्क के विश्लेषकों की एक वैश्विक टीम है जो चौबीसों घंटे घटनाओं की निगरानी करती है! उन्होंने आगे कहा, “हमने पिछले कुछ सालों में ऑटामेटिक तरीके से ब्रेकिंग न्यूज को पहचानने की क्षमता में सुधार किया है. जिससे अब हम कुछ ही मिनटों के भीतर समाचार ब्रेक कर देते हैं.

4 अरब से ज्यादा तथ्यों की जांच

इस साल में अब तक लोगों ने गूगल सर्च और न्यूज पर 4 अरब से अधिक बार तथ्यों की जांच की है जो 2019 की कुल सर्च की से भी अधिक हैं.
बता दें कि गूगल ने हाल ही में फैक्ट चैक करने वाले संगठनों और गैर-लाभकारी संगठनों को महामारी के बारे में गलत सूचनाओं की ध्यान दिलाने के लिए 6.5 मिलियन डॉलर का अतिरिक्त दान दिया है.

Related Posts