ज्योतिरादित्य सिंधिया का वार, कमलनाथ और दिग्विजय सिंह मध्य प्रदेश के सबसे बड़े गद्दार

कभी कांग्रेस का हिस्सा रहे अब भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) ने अपने पुराने साथी कमलनाथ (kamal nath) और दिग्विजय सिंह (digvijay singh) को पर जमकर हमला बोला.

Jyotiraditya Scindia
बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (फाइल फोटो)

कभी कांग्रेस का हिस्सा रहे अब भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) ने अपने पुराने साथी कमलनाथ (kamal nath) और दिग्विजय सिंह (digvijay singh) को निशाने पर लिया.

सिंधिया ने कहा जो लोग मुझे गद्दार कहते हैं वे इतिहास के पन्ने उलट कर देख ले. उन्होंने कहा  ‘कमलनाथ और दिग्विजय सिंह इतिहास के पन्ने पलट लो, डीपी मिश्रा ने जनता के खिलाफ कदम उठाया था तब राजमाता ने डीपी मिश्रा की सरकार को जमीन पर लाकर मिट्टी चटा दी थी. सिंधिया ने कहा कमलनाथ और दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश के सबसे बड़े गद्दार हैं.’

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शनिवार को मुरैना में कांग्रेस पर जमकर हमला बोला. सिंधिया ने कहा, ‘अगर किसी ने लोगों को धोखा दिया तो वह कमलनाथ और दिग्विजय सिंह हैं जिन्होंने 15 महीने में भी किसानों का कर्ज माफ नहीं किया. वह शिवराज सिंह सरकार के लिए आठ हजार करोड़ रुपये का कर्ज छोड़कर गए.’

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस के 22 विधायकों के इस्तीफा देने के बाद भाजपा में शामिल हो गए और प्रदेश की तत्कालीन कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ गई थी, जिसके कारण कमलनाथ ने 20 मार्च को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया. 23 मार्च को शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में मध्यप्रदेश में भाजपा की सरकार बनी. इसके बाद कांग्रेस के तीन अन्य विधायक भी कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए.

उपचुनाव के लिए कांग्रेस का प्रचार अभियान शुरू

उधर उपचुनाव के लिए कांग्रेस का चुनाव प्रचार अभियान शुरू हो गया है. प्रदेश में 27 विधानसभा सीटों पर आगामी उपचुनाव के मद्देनज़र प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आगर-मालवा जिले में स्थित प्रसिद्ध बगलामुखी देवी माता मंदिर में शनिवार को पूजा अर्चना करने के बाद कांग्रेस का चुनाव प्रचार अभियान शुरू किया.

मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद कमलनाथ ने आगर विधानसभा सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार विपिन वानखेड़े के समर्थन में एक जनसभा को संबोधित किया. भाजपा विधायक मनोहर ऊंटवाल के निधन से यहां उपचुनाव कराना पड़ रहा है.

Related Posts