दिल्ली को हरा 8वीं बार IPL फाइनल में चेन्नई, चौथी बार मुंबई से होगा खिताबी मुकाबला

चेन्नई सुपर किंग्स ने IPL इतिहास में 100वीं जीत दर्ज कर 8वीं बार कटाया फाइनल का टिकट.

विशाखापट्नम. चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) ने IPL में अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए 12वें सीजन के फाइनल में जगह बना ली है. CSK ने शुक्रवार को विशाखापट्नम में खेले गए मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स (DC) को 6 विकेट से हराकर फाइनल में जगह बनाई. ऐसा चौथी बार है कि IPL का फाइनल मुकाबला CSK और मुंबई इंडियंस (MI) के बीच खेला जाएगा.

इस मुकाबले में CSK ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया था. पहले बल्लेबाज करने उतरी दिल्ली कैपिटल्स ने 9 विकेट खोकर 147 रन बनाए. इन रनों का पीछा करते हुए CSK ने ये मुकाबला 19 ओवर में 6 विकेट रहते जीत लिया.

पंत के भरोसे दिल्ली की बल्लेबाजी 

पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली कैपिटल्स को तीसरे ओवर में पृथ्वी शॉ (5) के रूप में पहला झटका लगा. इसके बाद 37 के स्कोर पर 18 रन बनाकर शिखर धवन भी चलते बने. पहला विकेट दीपक चाहर, वहीं दूसरा विकेट हरभजन सिंह ने झटका. टीम का स्कोर 20 रन और बढ़ा कि दिल्ली को कॉलिन मुनरो (27) के रूप में तीसरा झटका लगा. कप्तान श्रेयस अय्यर 13 रन बनाकर चलते बने. दिल्ली को 80 रन पर अक्षर पटेल के रूप में पांचवां झटका लगा. पंत ने एक छोर संभाले रखा और दो चौके- एक छक्के की मदद से 25 गेंदों में 38 रन बनाए. पंत 19वें ओवर में चाहर की गेंद पर आउट हुए. आखिरी दो गेंदों पर ईशांत शर्मा ने 10 रन बटोर कर दिल्ली का स्कोर 147 रन पहुंचाया. चाहर, रवीन्द्र जडेजा, हरभजन सिंह और ड्वेन ब्रावो के नाम 2-2 विकेट रहे.

FAF
फाफ और वाटसन ने अर्धशतकीय पारी खेली.

सलामी बल्लेबाजों ने दिलाई CSK को जीत

दिल्ली के औसत स्कोर का पीछा करते हुए चेन्नई की शुरुआत शानदार रही और पहले विकेट के लिए फाफ डू प्लेसिस (50) और शेन वाटसन (50) ने 81 रन की साझेदारी की. फाफ 11वें ओवर में ट्रेंट बोल्ट की गेंद पर आउट हुए.  वहीं दो ओवर बाद वाटसन को अमित मिश्रा ने आउट किया. सुरेश रैना और एमएस धोनी का बल्ला नहीं बोला, फिर भी CSK ने ये मुकाबला 19 ओवर की समाप्ति पर 6 विकेट से जीत लिया. ट्रेंट बोल्ट, ईशांत शर्मा, अमित मिश्रा और अक्षर पटेल ने 1-1 विकेट झटके. फाफ डू प्लेसिस को मैन ऑफ द मैच चुना गया.

CSK बनाम MI होगा फाइनल मुकाबला 

CSK और MI के बीच IPL के 3 फाइनल मुकाबले खेले जा चुके हैं. 2010 में ये दोनों टीमें पहली बार फाइनल में भिड़ी थीं. तब मुकाबला चेन्नई ने जीता था. लेकिन इसके बाद 2013 और 2015 में मुंबई ने चेन्नई के खिलाफ फाइनल में बाजी मारी थी. बता दें कि, जहां चेन्नई 8वीं बार फाइनल खेल रही है, वहीं मुंबई का ये 5वां फाइनल मुकाबला होगा. चेन्नई ने IPL इतिहास में 100 मुकाबले जीते हैं और मुंबई ने 108 मुकाबले जीते हैं. दोनों ने तीन-तीन बार IPL खितान जीता है.