सैटेलाइट इमेज में दिखी LAC पर भारत-चीन सैनिकों की तैनाती, नेपाल के बाद ‘ड्रैगन’ का लिपुलेख में विरोध

चीनी सेना ने लिपुलेख (Lipulekh) क्षेत्र में सीमाओं के पास एक 'अस्थायी शेल्टर हट (Shelter Hut)' पर आपत्तियां उठाई हैं, जो मानसरोवर यत्रियों को मौसम और इलाके की सीमाओं से सुरक्षित रखने के लिए बनाई गई है.
Deployment of India-China troops on LAC, सैटेलाइट इमेज में दिखी LAC पर भारत-चीन सैनिकों की तैनाती, नेपाल के बाद ‘ड्रैगन’ का लिपुलेख में विरोध

वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर भारत (India) और चीन (China) की तनातनी के बीच नई सैटेलाइट तस्वीरें सामने आई हैं, जिसमें सीमा के दोनों तरफ दोनों की देशों के सेनाएं अपने कैंप लगाए हुए हैं. इन तस्वीरों में साफ रूप से भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच लगभग 2.5 किमी की अनुमानित दूरी का अंदाजा लगाया जा सकता है.

अपने-अपने क्षेत्र में दोनों सेनाएं

दरअसल इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट में इन सैटेलाइल फुटेज का जिक्र करते हुए कहा गया है कि तस्वीरों से यह भी पता चलता है कि दोनों ही पक्ष गालवान नदी घाटी में दूरी बनाए हुए हैं और अपने-अपने क्षेत्र में डेरा डाले हुए हैं. रिपोर्ट के अनुसार, 5 मई को पैंगोंग झील वाले इलाके में सैनिकों के बीच टकराव के बाद से ही दोनों तरफ सैनिकों की तैनाती तेज हो गई थी.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

वहीं इससे पहले खबर आई थी कि चीन ने गलवान घाटी से अपने सैनिकों को 2 किलोमीटर पीछे हटा लिया है. इसके अलावा चीन ने अपने कैंप को पहले से भी कम कर दिया है. भले ही चीन ने गलवान घाटी (Galwan Valley) पर अपने कदम पीछे खींच लिए हैं, लेकिन पेंगांग झील को लेकर दोनों एशियाई देशों के बीच अभी भी तनातनी कायम है.

अब उत्तराखंड में भी चीन ने शुरू किया विरोध

अभी लद्दाख के तरफ LAC का मुद्दा सुलझा भी नहीं था कि चीन ने उत्तराखंड की तरफ भी विरोध करना शुरू कर दिया है. भारत की तरफ अपनी सीमा क्षेत्र में बुनियादी ढांचे में सुधार पर भी चीन को अब आपत्ती हो रही है.

लिपुलेख में नेपाल के बाद चीन का विरोध

ऑनलाइन मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो चीनी सेना ने लिपुलेख (Lipulekh) क्षेत्र में सीमाओं के पास एक ‘अस्थायी शेल्टर हट (Shelter Hut)’ पर आपत्तियां उठाई हैं, जो मानसरोवर यत्रियों को मौसम और इलाके की सीमाओं से सुरक्षित रखने के लिए बनाई गई है. बता दें कि इससे पहले नेपाल (Nepal) ने लिपुलेख के लिए नई सड़क के निर्माण पर आपत्ति जताई थी.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts