गुना दलित पिटाई मामला: 6 पुलिसकर्मियों के खिलाफ एक्‍शन, घटना की होगी मजिस्ट्रियल जांच

TV9 भारतवर्ष को इस मामले पर जानकारी मिली है कि एसडीएम गुना (Guna) ने 13 जुलाई को इसी जमीन की नपाई के आदेश जारी किए थे. गुना SDM ने आदेश जारी करके 23 लोगों की एक टीम बनाई थी.
Guna Dalit beating case Action against 6 policemen, गुना दलित पिटाई मामला: 6 पुलिसकर्मियों के खिलाफ एक्‍शन, घटना की होगी मजिस्ट्रियल जांच

मध्य प्रदेश (MP) के गुना (Guna) में पुलिस की दलित की पिटाई करने के मामले पर TV9 भारतवर्ष को कई अहम जानकारियां मिली हैं. इसके अलावा कलेक्टर एस विश्वनाथन ने पूरे मामले की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश भी दे दिए हैं.

SDM ने 13 जुलाई को बनाई थी एक टीम

दरअसल जानकारी यह मिली है कि एसडीएम गुना ने 13 जुलाई को इसी जमीन की नपाई के आदेश जारी किए थे. गुना SDM ने आदेश जारी करके 23 लोगों की एक टीम बनाई थी. इसमें 20 पटवारी और 3 राजस्व निरीक्षक (RRE) थे. इस आदेश को देखकर यह साफ था कि वहां पर विवाद हो सकता है. जाहिर है प्रशासनिक लापरवाही का यह गंभीर एक मामला है.

डीएम ने 30 दिन में मांगी जांच रिपोर्ट

इसके अलावा गुना के जगनपुर में हुई इस घटना को लेकर डीएम एस विश्वनाथन मजिस्ट्रियल जांच के आदेश भी दे दिए हैं. मामले की जांच आरोन एसडीएम केएल यादव करेंगे. 30 दिन में जांच पूरी कर वे डीएम को अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे.

 SP ने 6 पुलिसवालों को किया सस्पेंड

वहीं किसान के कीटनाशक पीकर आत्महत्या करने की कोशिश और उसके बाद पुलिस की बर्बर कार्रवाई पर 6 पुलिसवालों को सस्सपेंड कर दिया गया है. प्रभारी एसपी ने इसके आदेश भी जारी कर दिए हैं. गौरतलब है कि इस घटना के बाद एसपी, कलेक्टर और ग्वालियर आईजी को भी हटा दिया गया था.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

शुरुआती कार्रवाई में एसआई अशोक सिंह, कांस्टेबल राजेंद्र शर्मा, पवन यादव, नरेंद्र रावत, महिला आरक्षक नीतू यादव, रानी रघुवंशी निलंबित किए गए हैं. आदेश में लिखा गया है कि शुरुआती जांच में इन सभी पुलिसवालों की कार्यप्रणाली संदिग्ध पाई गई है.

क्या था मामला?

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जगनपुर में कॉलेज के लिए आरक्षित जमीन पर स्थानीय भू-माफिया गब्बू पारदी द्वारा अवैध कब्जा किया गया था. कब्जे की जमीन को गब्बू पारदी ने बटाई पर राजकुमार अहिरवार को दे रखा था. कब्जा हटाने की कार्रवाई के दौरान राजकुमार और उसकी पत्नी ने कीटनाशक दवाई पी ली थी.

इसके बाद भी पुलिस राजकुमार और उसकी पत्नी को बेरहमी से पीटती रही. कमलनाथ ने इस घटना का एक वीडियो शेयर कर पुलिसवालों पर कार्रवाई की मांग की थी.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts