पाक में गिरफ्तार पायलट पर बनी फिल्म में की थी मदद, अब बेटा ही पाकिस्तान की गिरफ्त में

पाकिस्तानी सेना की गिरफ्त में आए भारतीय पायलट अभिनंदन को लेकर पूरा देश फिक्रमंद है. कौन हैं विंग कमांडर अभिनंदन, कौन हैं उनके पिता, और कैसे उनके पिता ने मणिरत्नम की एक फिल्म में मदद की थी लेकिन आज उनके सामने उस फिल्म की कहानी हकीकत बन गई..

नई दिल्ली: भारत और पाकिस्तान के बीच सीमा पर बीते कई दिनों से तनाव जारी है. सबसे पहले भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के अड्डों को तबाह किया और कल पाकिस्तान ने भारतीय सीमा में घुसने का प्रयास किया. पाकिस्तान ने दो भारतीय विमानों को नष्ट करने और दो भारतीय वायुसेना पायलटों को गिरफ्तार करने का दावा किया है. लेकिन बाद में कहा कि उसके कब्ज़ें में सिर्फ़ एक भारतीय पायलट है. जिस गिरफ्तार पायलट की बात की जा रही है वो इंडियन एयरफ़ोर्स के विंग कमांडर अभिनंदन हैं. हालांकि भारत ने भी पाकिस्तान के एक लड़ाकू विमान F-16 को मार गिराने का दावा किया है लेकिन पाकिस्तान ने इसे ख़ारिज कर दिया है.

पाकिस्तान ने इसके बाद अभिनंदन के कई फोटो और वीडियो जारी किए हैं जिसके बाद भारत सरकार ने भी उनके पाकिस्तानी कब्जे में होने की पुष्टि करते हुए फौरन पाकिस्तान से अभिनंदन को सुरक्षित भारत लौटाने को कहा है.

कौन हैं अभिनंदन ?

अभिनंदन भारतीय वायु सेना में विंग कमांडर हैं. वो बुधवार को MiG- 21 लेकर उड़े थे जिसे पाकिस्तानी एयरफ़ोर्स ने मार गिराया और अभिनंदन को गिरफ्तार कर लिया. पाकिस्तान की तरफ से उनके कुछ वीडियो भी जारी किए गए थे जिसमें वे जख्मी दिख रहे थे और एक वीडियो में अभिनंदन को कुछ लोग पीटते हुए भा दिख रहे थे. एक दूसरे वीडियो में उन्हें बंदी बनाकर उनसे कुछ सवाल भी किये जा रहे थे जिसमें वे अपना परिचय देते हुए वे कह रहे थे कि  ”मेरा नाम विंग कमांडर अभिनंदन है. मेरा सर्विस नंबर 27981 है. मैं एक फ्लाइंग पायलट हूं”

पिता भी रह चुके हैं फाइटर पायलट

विंग कमांडर अभिनंदन के पिता एस वर्तमान भी वायु सेना में फाइटर पायलट रह चुके हैं. उनके पिता चेन्नई में रहते हैं. पिता के नक्शेकदम पर चलते हुए अभिनंदन ने भी 2004 में वायु सेना ज्वाइन की थी. अभिनंदन के पिता के पास 40 तरह के विमान उड़ाने के साथ 4000 घंटे से ज्यादा उड़ान का अनुभव भी है. करगिल युद्ध के दौरान वे मिराज स्क्वाड्रन के चीफ ऑपरेशन ऑफिसर थे. संयोग देखिए कि आज जिसे बेटे की वापसी का वे इंतजार कर रहे हैं कभी उसी कहानी पर आधारित फिल्म में वे निर्देशक मणिरत्नम की मदद कर चुके हैं. यह फिल्म करगिल युद्ध के दौरान एक भारतीय पायलट के पाकिस्तान में पकड़े जाने पर बनाई गई थी.

पत्नी भी स्क्वॉड्रन लीडर रह चुकी हैं

अभिनंदन की पत्नी तन्वी मरवाहा भी स्क्वॉड्रन लीडर के पद से रिटायर हो चुकी हैं. 15 साल तक सेना में सर्विस के बाद तन्वी हेलिकॉप्टर पायलट के तौर पर रिटायर हुईं. तन्वी इस वक्त बेंगलुरू में रिलायंस जिओ की डीजीएम हैं.

अभिनंदन के पाकिस्तान के क़ब्ज़े में आने पर भारतीय सोशल मीडिया पर तीखी प्रतिक्रिया भी देखने को मिल रही है. घटना के बाद कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी ने अभिनंदन की सुरक्षित वापसी की उम्मीद जताई है.