कुलभूषण जाधव मामले में आज अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान

नई दिल्ली: इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे) पूर्व भारतीय नेवी अफसर कुलभूषण जाधव(48) के मामले में आज से सार्वजनिक सुनवाई करेगा. जाधव को पाकिस्तानी कोर्ट की तरफ से अप्रैल 2017 में जासूसी और आतंकवाद के आरोप में मौत की सजा सुनाई गई थी. जिसके खिलाफ भारत ने संयुक्त राष्ट्र संघ में अपील की थी. इसी […]

  • TV9.com
  • Publish Date - 9:30 am, Mon, 18 February 19
kulbhushan jadhav, kulbhushan jadhav news

नई दिल्ली: इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे) पूर्व भारतीय नेवी अफसर कुलभूषण जाधव(48) के मामले में आज से सार्वजनिक सुनवाई करेगा. जाधव को पाकिस्तानी कोर्ट की तरफ से अप्रैल 2017 में जासूसी और आतंकवाद के आरोप में मौत की सजा सुनाई गई थी. जिसके खिलाफ भारत ने संयुक्त राष्ट्र संघ में अपील की थी. इसी सिलसिले में आज भारत और पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र की शीर्ष अदालत के समक्ष अपनी-अपनी दलीलें पेश करेंगे. इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस ने 18 से 21 फरवरी तक मामले में सार्वजनिक सुनवाई का समय तय किया है. इस मामले में पाकिस्तान का दावा था कि जाधव साधारण व्यक्ति नहीं है, क्योंकि उसने जासूसी व बलूचिस्तान में नुकसान पहुंचाने के इरादे से देश में प्रवेश किया था. भारत जाधव पर लगाए गए सभी आरोपों से इनकार करता रहा है.

क्या है मामला

मार्च 2016 में कुलभूषण जाधव को पाकिस्तानी सुरक्षाबलों ने बलूचिस्तान से गिरफ्तार किया था. पाकिस्तान ने जाधव पर जासूसी और आतंकवाद के आरोप लगाए थे. इन्हीं आरोपों के चलते पाकिस्तान की मिलिट्री कोर्ट ने 2017 में उन्हें मौत की सजा सुनाई थी. हालांकि भारत ने इन सारे दावों को खारिज कर दिया था और पिछले साल मई में भारत की तरफ से इस मामले को इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस में उठाया गया था जहां कुलभूषण की फांसी के फैसले का विरोध किया गया था. कोर्ट ने इसके बाद जाधव की सजा पर रोक लगा दी थी.

इसी साल आ सकता है फैसला

भारत की तरफ से सोमवार को वकील हरीश साल्वे और 19 फरवरी को पाकिस्तानी वकील खावर कुरैशी अपनी-अपनी दलीलें पेश करेंगे. इसके बाद भारत 20 फरवरी को इस पर जवाब देगा, जबकि इस्लामाबाद 21 फरवरी को अपनी आखिरी दलीलें पेश करेगा. ऐसी उम्मीद की जा रही है कि इस मामले में फैसला इस साल आ जाएगा.