लाइनमैन, LIU इंस्‍पेक्‍टर ने खोले राज, SI का कबूलनामा, देखें विकास दुबे का पर्दाफाश करने वाला Sting

टीवी9 भारतवर्ष के स्टिंग ऑपरेशन में कानपुर एनकाउंटर केस (Kanpur Encounter Case) से जुड़ी कई बड़ी बातें सामने आईं हैं. कई सवालों के जवाब आपको इस स्टिंग ऑपरेशन में मिल जाएंगे.
Sting Operation kanpur encounter case, लाइनमैन, LIU इंस्‍पेक्‍टर ने खोले राज, SI का कबूलनामा, देखें विकास दुबे का पर्दाफाश करने वाला Sting

कानपुर के बिकरू गांव का गैंगस्टर विकास दुबे अब भी फरार है. वह कहां है इसके बारे में कोई सूचना नहीं है. कभी उसके उत्तर प्रदेश के ओरैया में होने की बात सामने आती है.
कभी बिजनौर तो कभी चंबल के बीहड़ों में उसकी लोकेशन मिलती है, तो कभी हरियाणा के फरीदाबाद.

वह फरीदाबाद के एक होटल में कई दिन तक रुका लेकिन पुलिस उस तक पहुंचती तब तक वह फरार हो गया. कानपुर एनकाउंटर के मुख्य आरोपी विकास दुबे को फरार हुए 140 से ज्यादा घंटे हो गए हैं. वह अब भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

वहीं टीवी9 भारतवर्ष के स्टिंग ऑपरेशन में कई बड़ी बातें सामने आईं हैं. सुरेश कुमार तिवारी (LIU इंस्पेक्टर चौबेपुर) ने जो बात कही उसे सुनकर आप हैरान रह जाएंगे.

LIU इंस्पेक्टर- ये तो है ही जुए को लेकर उनकी अनबन हुई..

रिपोर्टर- जुए को लेकर अनबन रही तिवारी और विकास दुबे की.

LIU इंस्पेक्टर- नहीं एसओ चौबेपुर का. सीओ भी सब इंस्पेक्टर रहे हैं..तो इनको सब चीजों की जानकारी थी कि कैसे क्या होता है. वो भी जानते हैं कि माल कहां आता है और कहां जाता है. वो अपने मुखबिर भेज देते थे. तो वही जुए का अड्डा पकड़ा गया तो विवाद का कारण बन गया.

स्टिंग ऑपरेशन में एक और ऐसा खुलासा हुआ जिसे जानकरआप हैरान रह जाएंगे. बिकरू गांव की महिलाओं की बातों पर यक़ीन करें तो 2-3 जुलाई की रात जब गैंगस्टर विकास दुबे और दूसरे घरों से गोलियां चल रही थीं तो उस वक्त बिजली नहीं थी ये बात पुलिस के उस कॉन्स्टेबल के बयान से भी सच साबित होता है, जो ख़ुद हत्याकांड की रात मौक़े पर मौजूद था और गोलीकांड में उसके हाथों में भी गोली लगी.

अजय कश्यप घायल पुलिसकर्मी- उसका मकान लगभग 200 मीटर के आसपास होगा. तब हम वहां पर थे. तो रास्ते में पूरा अंधेरा था. गांव में लाइट नहीं आ रही थी. और न ही किसी के मकान में कोई बल्ब जल रहा था.

ये सवाल हुए खड़े

अब यहां कई सवाल पैदा होते हैं- क्या विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस टीम ने गांव की बिजली कटवाई थी? क्या पुलिस टीम अंधेरे का फ़ायदा उठाकर विकास दुबे को पकड़ना चाहती थी? क्या पुलिस ने विकास दुबे के गुनाहों का अंत करने के लिए पहले से प्लानिंग की थी और इसलिए पुलिस टीम के गांव में दाखिल होने से पहले बिजली कटवाई गई?

चौबेपुर थाने में दर्ज बिकरू गोलीकांड की FIR में साफ़-साफ़ दर्ज है कि जब पुलिस बिकरू गांव में दाखिल हुई तो टीम के पास ड्रैगन लाइट भी थी और पर्याप्त बिजली भी थी. मतलब, पुलिस की FIR कहती है कि लाइट थी. क्या ये सच है.

टीवी9 की पड़ताल

इसकी तहक़ीक़त के लिए टीवी9 भारतवर्ष बिकरू गांव से करीब ढाई किलोमीटर दूर पावर सब-स्टेशन पर पहुंचा. इसी पावर स्टेशन से बिकरू गांव में बिजली की सप्लाई होती है. यहां टीवी 9 भारतवर्ष के अंडरकवर रिपोर्ट्स ने उस लाइनमैन से बात की, जो 2-3 जुलाई की रात पावर सब-स्टेशन में ड्यूटी पर मौजूद था.

लाइन मैन नरेश- 888756….इस नंबर से 2 बजकर 15 मिनट पर और हमने लाइट बंद की. उन्होंने कहा कि बिकरू में तार टूट गया है बत्ती बंद कर दो. जब पूछा कि कौन बोल रहे हो तो कहा कि हम थाने से बोल रहे हैं. बस इतना ही.

टीवी9 भारतवर्ष की पड़ताल में सामने आया कि ये मोबाइल नंबर चौबेपुर में तैनात कांस्टेबल अभिषेक यादव के नाम से दर्ज है. देखिए ये वीडियो…

दिनेश कुमार (एसएसपी कानपुर) का कहना है कि लाइट की रोशनी में पुलिसवाले उसका टारगेट न बन जाएं इसलिए वहां के लोकल एसओ ने फोन करके बताया कि वहां की बिजली काटनी है.

पुलिस की आखिर क्या तैयारी थी?

2-3 जुलाई की रात दबिश देने गई पुलिस की आखिर क्या तैयारी थी. क्या उसे इस बात का इल्म नहीं था कि दुर्दांत अपराधियों में से एक विकास दुबे उनपर कहर बनकर टूटने वाला है. एक-एक सच आज TV9 भारतवर्ष आपके सामने ला रहा है. देखिए ये वीडियो…

मीडिया रिपोर्ट तो यहां तक है कि गैंगस्टर विकास दुबे को पुलिस के रेड की ख़बर पहले से थी. इसलिए उसने चालीस-पचास अपराधियों को बुलाया था और अपने घर के पास वाले मकानों की छतों पर तैनात कर दिया था. पहले से जानकारी के कारण ही गैंगस्टर विकास दुबे ने पुलिस का रास्ता रोकने के लिए जेसीबी मशीन खड़ी कर दी थी. जब टीवी9 भारतवर्ष हत्याकांड के बाद बिकरू गांव पहुंचा तो माफ़िया विकास दुबे के घर के बाहर पीएसी की तैनाती थी. पीएसी जवानों ने हमारे अंडर कवर रिपोर्ट्स को जो बताया, वो चौंकानेवाला है. देखें वीडियो में पूरा स्टिंग ऑपरेशन…

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts