PM मोदी के मेगा इवेंट में लगेगा अमेरिकी सांसदों का जमावड़ा, जानें क्या है ‘हाउडी मोदी’

एनआरजी स्टेडियम में होने वाले इस कार्यक्रम का आयोजन टेक्सास इंडिया फोरम (टीआइएफ) कर रहा है.

अमेरिका के ह्यूस्टन शहर में होने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेगा शो ‘हाउडी, मोदी’ की जबर्दस्त तैयारियां चल रही हैं. इस कार्यक्रम का आयोजन 22 सितंबर को होगा. कार्यक्रम में पीएम मोदी के स्वागत के लिए 60 से अधिक प्रमुख अमेरिकी सांसद हिस्सा लेंगे. इनमें अमेरिका की पहली हिंदू सांसद तुलसी गबार्ड और भारतीय-अमेरिकी सांसद राजा कृष्णमूर्ति भी शामिल हैं.

क्या है ‘हाउडी’ 
दक्षिण-पश्चिम अमेरिका में ‘हाउ डू यू डू’ (आप कैसे हैं) को सामान्य बोलचाल की भाषा में ‘हाउडी’ कहा जाता है. एनआरजी स्टेडियम में होने वाले इस कार्यक्रम का आयोजन टेक्सास इंडिया फोरम (टीआइएफ) कर रहा है. कार्यक्रम में सांसदों के अलावा कांग्रेस के सदस्य, सीनेट के प्रतिनिधि और विभिन्न राज्यों के राज्यपालों सहित कानूनविद भी शामिल होंगे.

50 हजार जुटेंगे दर्शक
इस भव्य कार्यक्रम के आयोजन से जुड़े आईटी कंपनी एक्सपीडियन के सीईओ जितेन अग्रवाल ने इसे लेकर अधिका जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि विभिन्न राज्यों के गवर्नर और दोनों सदनों के सांसद भारतीय-अमेरिकी समुदाय द्वारा 22 सितंबर को एनआरजी स्टेडियम में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में शिरकत करेंगे. इसमें रिकॉर्ड 50 हजार दर्शक जुटेंगे.

अग्रवाल ने बताया, “यह अमेरिका के अब तक के सबसे बड़े और यादगाह इवेंट में से एक होगा, क्योंकि भारतीय-अमेरिकियों, मुख्यधारा के अमेरिकियों, सांसदों और व्यवसायियों में पीएम मोदी के दृष्टिकोण जानने में काफी रुचि है.”

जॉन कॉरिन, टेड क्रुज, एल ग्रीन, पीटे ओल्सन, शीला जैकसन ली, सिल्विया ग्रेसिया, ग्रेग एबॉट, सिंडी हेडन-स्मिथ, एमी बेरा, ब्रायन बैबिन, राजा कृष्णमूर्ति, तुलसी गब्बार्ड, ब्रैड शेरमन और न्यू यॉर्क के गवर्नर एलियट एंजल कार्यक्रम में शामिल होने वाले सांसदों में शामिल हैं.

‘अब तक का सबसे भव्य कार्यक्रम’
उन्होंने बताया कि ‘मुझे लगता है कि ह्यूस्टन के सबसे बड़े स्टेडियम में यह अब तक का ऐसा पहला कार्यक्रम होगा. इसे सफल बनाने के पीछे बड़ी संख्या में लॉजिस्टिक्स, संगठनात्मक चुनौती, समुदाय का समर्पण है.’

बता दें कि साल 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी तीसरी बार भारतीय-अमेरिकी समुदाय को संबोधित करेंगे. पीएम मोदी ने 2014 में न्यूयॉर्क के मेडिसन स्क्वायर पर और 2016 में सिलिकॉन वैली में भारतीय-अमेरिकी समुदाय को संबोधित किया था. इन दोनों ही कार्यक्रमों में 20 हजार से ज्यादा लोग शामिल हुए थे.

ये भी पढ़ें-

अब तक का सबसे बड़ा चालान, ओडिशा में ट्रैफिक नियम तोड़ने पर लगा साढ़े 6 लाख से ज्यादा का जुर्माना

मोदी सरकार ने राहुल गांधी को संसद में दी ये अहम जिम्मेदारी, नुसरत जहां-प्रज्ञा ठाकुर को भी मिला मौका

पेट में छिपाकर दिल्ली ला रहे थे 30 करोड़ की ड्रग्स, 6 विदेशी नागरिक गिरफ्तार