18 दिन बाद भी नहीं मिले 8 पर्वतारोही, ITBP ने शुरू किया खोज अभियान

पर्वतारोहियों के गुम हुए दल में 4 ब्रिटिश, दो अमेरिकन, एक ऑस्ट्रेलियन और एक भारतीय पर्वतारोही शामिल हैं जो पिछले 26 मई, 2019 से लापता हैं.

पिथौरागढ़: उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में आज जिला प्रशासन के साथ ITBP के पर्वतारोहियों ने भू मार्ग से नंदा देवी पूर्व अभियान पर गए पर्वतारोहियों की तलाश में अपने प्रशिक्षित पर्वतारोहियों की एक टीम रवाना कर दी है. यह टीम पर्वतारोही उपकरणों से लैस है और इसमें बल के कई नामी पर्वतारोही शामिल हैं.

यह दल अपने अभियान के दौरान क्षेत्र में जाकर अनुकूलन प्रक्रिया पूर्ण करेगा और अलग-अलग दूरी व स्थानों पर कैंप स्थापित करके उस इलाके तक पहुंचने का प्रयास करेगा जहां इन पर्वतारोहियों के उपकरणों आदि को अंतिम बार देखा गया था.

पर्वतारोहियों के गुम हुए दल में 4 ब्रिटिश, दो अमेरिकन, एक ऑस्ट्रेलियन और एक भारतीय पर्वतारोही शामिल हैं जो पिछले 26 मई, 2019 से लापता हैं. यह दल नंदा देवी पूर्व के बगल में एक अनाम चोटी पर पहली बार समिट करने के उद्देश्य से 25 की मध्यरात्रि को निकला था. ऐसा अनुमान है कि आईटीबीपी की टीम 1 सप्ताह के भीतर बेस कैंप तक पहुंच जाएगी.

लगभग 20,000 फीट की ऊंचाई पर पहुंचकर खोज अभियान चलाने का यह अभियान बहुत दुष्कर माना जा रहा है लेकिन आईटीबीपी प्रयास कर रही है कि इस अभियान को सफलतापूर्वक पूरा किया जाए. आवश्यकतानुसार इस टीम को संसाधनों हेतु हवाई सहायता भी उपलब्ध करवाई जाएगी. दो दिन पूर्व श्री एस एस देसवाल, डीजी आईटीबीपी ने स्वयं पिथौरागढ़ में इस खोज दल के सदस्यों को ब्रीफ किया था.