राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने संसद में अटल जी की तस्वीर का किया अनावरण

Share this on WhatsAppनई दिल्ली: राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने मंगलवार को संसद के सेंट्रल हॉल में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के लाइफ साइज पोर्ट्रेट का अनावरण किया. इस अवसर पर उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, विभिन्न दलों के मंत्री और नेता उपस्थित थे. वृंदावन के चित्रकार कृष्ण कन्हाई […]

नई दिल्ली: राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने मंगलवार को संसद के सेंट्रल हॉल में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के लाइफ साइज पोर्ट्रेट का अनावरण किया. इस अवसर पर उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, विभिन्न दलों के मंत्री और नेता उपस्थित थे.

वृंदावन के चित्रकार कृष्ण कन्हाई ने इस फोटो को तैयार किया है. इस अनावरण के बाद अटल बिहारी वाजपेयी का नाम देश की उन चंद बड़ी विभूतियों में शामिल हो जाएगा जिनकी तस्वीर संसद के केंद्रीय कक्ष में है.

25 दिसंबर 1924 को मध्य प्रदेश के ग्वालियर में जन्मे अटल जी का लंबी बीमारी के बाद 16 अगस्त 2018 को निधन हो गया था. अटल जी के चित्र को संसद के सेंट्रल हॉल में स्थापित करने का निर्णय 18 दिसंबर को सुमित्रा महाजन की अध्यक्षता में संसद की पोर्ट्रेट समिति की बैठक में लिया गया था.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस अवसर पर बोलते हुए कहा कि अटल जी के जीवन पर काफी बातें की जा सकती हैं, घंटो तक बात की जा सकती हैं फिर भी उनके व्यक्तित्व के बारे में बातें कम ही पड़ जाएंगी. उन्होंने आगे कहा कि अटल जी ने व्यक्तिगत जीवन के हित के लिए कभी अपना रास्ता नहीं बदला और ये अपने आप में सार्वजनिक जीवन में हम जैसे कई कार्यकर्ताओं के लिए बहुत कुछ सीखने जैसा है.

अटल बिहारी वाजपेयी जो भाजपा के एक अग्रणी नेता थे अपने राजनीतिक जीवन में तीन बार प्रधानमंत्री बने. पहली बार 1996 में 13 दिनों के लिए, फिर 1998 से 1999 तक 13 महीने और फिर 1999 से 2004 तक. बता दें कि संसद भवन के सेंट्रल हॉल में पूर्व प्रधानमंत्री पंडित नेहरू और इंदिरा गांधी के पोर्ट्रेट भी लगे हैं. अब इस कड़ी में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का नाम भी जुड़ गया है.