श्रीलंका सीरियल ब्लास्ट: पहली बार सामने आईं संदिग्ध हमलावरों की तस्वीरें, तीन महिलाएं भी शामिल

जांच पड़ताल के बाद पुलिस ने संदिग्धों के नाम, तस्वीर व अन्य जानकारी जनता के साथ साझा की है. हालांकि इस हमले की जिम्मेदारी आईएसआईएस आतंकी संगठन ने ली है.

कोलंबो: श्रीलंका में हुए सीरियल बम ब्लास्ट में अब तक 259 लोगों की मौत हो चुकी है वहीं करीब पांच सौ से ज्यादा लोग घायल हैं. श्रीलंका की सुरक्षा एजेंसियों ने ईस्टर धमाकों के संदिग्धों की तस्वीर जारी की है. श्रीलंका ने छ: संदिग्ध हमलावरों की तस्वीर जारी की हैं, जिसमें 3 महिलाएं भी शामिल हैं.

जानकारी के मुताबिक इन धमाकों के मद्देनजर श्रीलंका की सुरक्षा एजेंसियों ने 16 लोगों को गिरफ्तार किया है. एजेंसियों का दावा है कि आत्मघाती हमलावरों में नौ आतंकी, स्थानीय संगठन एनटीजे के हो सकते हैं. शक हैं कि इन्हीं आतंकियों की मदद से विनाशकारी विस्फोटक चर्च और होटल के अंदर तक पहुंचाए गए थे.

जांच पड़ताल के बाद पुलिस ने संदिग्धों के नाम, तस्वीर व अन्य जानकारी जनता के साथ साझा की है. हालांकि इस हमले की जिम्मेदारी आईएसआईएस आतंकी संगठन ने ली है.
ऐसा संदेह किया जा रहा है कि इस हमले में स्थानीय इस्लामी चरमपंथी संगठन नेशनल तौहीद जमात (एनटीजे) का हाथ है.

हालांकि, अब स्वास्थ्य सेवा के महानिदेशक डॉक्टर अनिल जयसिंघे ने बताया कि पहले वाली संख्या गिनती में गलती होने की वजह से बताई गई थी. उन्होंने कहा कि इस हमले में मृतकों की संख्या लगभग 253 होगी, न कि मीडिया में आई खबरों के अनुसार 359 है. जयसिंघे ने बताया कि कम से कम 485 घायल लोगों का अस्पतालों में इलाज चल रहा है. इसी बीच, विदेश मंत्रालय ने बताया कि 11 भारतीय लोगों समेत 40 विदेशी नागरिकों की मौत इस हमले में हुई.

इससे पहले श्रीलंका में सिलसिलेवार बम धमाके करने की जिम्‍मेदारी इस्‍लामिक स्‍टेट ने ली है. हालांकि सरकार ने नेशनल तौहीद जमात (NTJ) नाम के संगठन की संलिप्‍तता होने की बात कही है. श्रीलंकाई रक्षा मंत्री ने मंगलवार को कहा था कि धमाके शायद न्‍यूजीलैंड की मस्जिदों पर 15 मार्च को हुए हमले के जवाब में किए गए. एएफपी ने रिपोर्ट दी है कि कोलंबो के मशहूर मसाला व्‍यापारी के दो बेटों पर आत्‍मघाती बम धमाके करने का शक है. श्रीलंकाई अधिकारियों के हवाले से एजंसी ने बताया है कि एक भाई ने होटल में चेक-इन करते समय पहचान छिपाई थी, मगर दूसरे ने असली पता बता दिया था.

एजंसी ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि जब स्‍पेशल टास्‍क फोर्स जांच करने उस पते पर गई तो एक भाई की बीवी ने बम ब्‍लास्‍ट कर अपने दो बच्‍चों और खुद को उड़ा दिया. इस धमाके में तीन पुलिस कमांडो भी मारे गए. पुलिस ने परिवार के कई रिश्‍तेदारों को हिरासत में ले रखा है. एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “ये एक परिवार द्वारा ऑपरेट होना आतंकी सेल था. उनके पास कैश था, माना जा रहा है कि उन्‍होंने अपने रिश्‍तेदारों को भी प्रभावित किया.”

दोनों भाइयों के माता-पिता का पता नहीं चल रहा है. आधिकारिक सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि जांच का फोकस अब यह पता लगाने पर होगा कि क्‍या दोनों भाइयों के आतंकी बन जाने में कोई विदेशी हाथ था क्‍या. यह भी जांचा जाएगा कि कैसे एक रईस परिवार के बच्‍चों ने आतंक का रास्‍ता चुन लिया. अधिकारी ने कहा कि दोनों भाई NTJ के प्रमुख सदस्‍यों में से थे.

Related Posts