बिहार: सुशील मोदी का प्रशांत किशोर पर पलटवार, कहा, ‘अजीब पाखंड है’

सुशील मोदी ने मंगलवार को ट्वीट कर लिखा, "बिहार में चंद महीनों बाद चुनाव होने को हैं, इसलिए हर कोई अभी से तैयारी कर रहा है और अधिकतम लाभ या सफलता को ध्यान में रखकर बयान दे रहा है.''
Sushil Modi hits back at Prashant Kishor, बिहार: सुशील मोदी का प्रशांत किशोर पर पलटवार, कहा, ‘अजीब पाखंड है’

पटना: बिहार के उपमुख्यमंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट कर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नेता तेजस्वी यादव के साथ चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर पर निशाना साधा है. सुशील मोदी ने मंगलवार को ट्वीट कर लिखा, “बिहार में चंद महीनों बाद चुनाव होने को हैं, इसलिए हर कोई अभी से तैयारी कर रहा है और अधिकतम लाभ या सफलता को ध्यान में रखकर बयान दे रहा है.

सरकार अपने पांच साल के काम जनता के सामने रख रही है. जो बेरोजगार रहे, वे रथयात्रा निकालकर अपनी नाकामी पर पर्दा डालना चाहते हैं और जो इवेंट मैनेजमेंट और स्लोगन राइटिंग का काम करते थे, वे नया ठेका पाने में लग गए हैं. जनता मालिक है और वह केवल काम पर आशीर्वाद देने वाली है.”

सुशील मोदी ने प्रशांत किशोर को आड़े हाथों लेते हुए आगे लिखा, “इवेंट मैनेजमेंट करने वालों की खुद की कोई विचारधारा नहीं होती, लेकिन वे अपने प्रायोजक की विचारधारा और भाषा तुरंत अपनाने में माहिर होते हैं. जनता देख रही है कि चुनाव करीब आने पर किसको अचानक किसमें गोडसे के विचारों की छाया दिखने लगी और कौन दूध का धुला सेक्युलर गांधीवादी लगने लगा.”

प्रशांत किशोर पर सियासी हमला जारी रखते हुए उन्होंने आगे कहा, “अजीब पाखंड है कि कोई किसी को पितातुल्य बताए और पिता के लिए ‘पिछलग्गू’ जैसा घटिया शब्द चुने. जो व्यक्ति 2014 में नरेंद्र मोदी की जीत के लिए काम करने का डंका पीट चुका हो, उसे बताना चाहिए कि तब मोदी और भाजपा उसे गोडसेवादी क्यों नहीं लगे? पिछले ढाई साल से नीतीश कुमार भाजपा के साथ हैं, लेकिन चुनाव से आठ महीने पहले वे गोडसेवादी क्यों लगने लगे?” प्रशांत किशोर ने यहां मंगलवार को नीतीश कुमार को ‘पितातुल्य’ बताया है.

Related Posts