टीम इंडिया के कोच रवि शास्‍त्री ने बताया, वर्ल्‍ड कप सेमीफाइनल में क्‍यों हारा भारत

सेमीफाइनल में धोनी को नंबर 7 पर भेजने का फैसला किसका था, इस पर शास्‍त्री ने बताया कि यह टीम का फैसला था.

नई दिल्‍ली: वर्ल्‍ड कप सेमीफाइनल में हार पर टीम इंडिया के कोच रवि शास्‍त्री की प्रतिक्रिया आई है. न्‍यूजीलैंड के खिलाफ टीम को किस बात का खामियाजा भुगतना पड़ा, शास्‍त्री ने उस फैक्‍टर को भी सामने रखा. भारतीय क्रिकेट टीम के हेड कोच, शास्‍त्री ने यह भी बताया कि एमएस धोनी को नंबर 7 पर भेजने का फैसला किसका था.

शास्‍त्री ने माना कि टीम इंडिया को वर्ल्‍ड कप में ‘सॉलिड’ नंबर 4 की कमी खली. मिडल ऑर्डर में इसी की वजह से दिक्‍कत पैदा हुई और टीम का संतुलन गड़बड़ा गया. शास्‍त्री ने द इंडियन एक्‍सप्रेस से बातचीत में कहा, “नंबर 4 की पोजिशन हमें हमेशा से परेशान करती रही है, मगर हम उसका हल नहीं ढूंढ सके. केएल राहुल वहां थे मगर फिर श‍िखर धवन चोटिल हो गए. फिर विजय शंकर आए और वे भी घायल हो गए. हम कंट्रोल ही नहीं कर पाए.”

सेमीफाइनल में धोनी को नंबर 7 पर भेजने का फैसला किसका था, इस पर शास्‍त्री ने बताया कि यह टीम का फैसला था. उन्‍होंने कहा, “आखिरी चीज आप यही चाहते थे कि धोनी जल्‍दी बल्‍लेबाजी करने आएं और आउट होकर चले जाएं. इससे हमारी चेज खत्‍म हो जाती. हमें बाद में उनके अनुभव की जरूरत थी. वह सबसे अच्‍छे फिनिशर हैं और उनका उस रूप में इस्‍तेमाल न करना अपराध होता. पूरी टीम इस बात को लेकर क्लियर थी.”

शास्‍त्री ने हार के बाद टीम को ड्रेसिंग रूम में दिलासा भी दिया. उन्‍होंने टीम से कहा, “अपने सिर उठाकर चलो. वो 30 मिनट इस तथ्‍य को मिटा नहीं सकते कि आप पिछले दो सालों की बेस्‍ट टीम रहे हैं. आप लोग ये बात जानते हैं. एक टूर्नामेंट, एक सीरीज- और वो 30 मिनट का खेल इसका फैसला नहीं कर सकते. हम सब दुखी हैं मगर अंत में आपको गर्व होना चाहिए जो कुछ आपने पिछले दो साल में हासिल किया है.”

ये भी पढ़ें

वर्ल्‍ड कप से टीम इंडिया बाहर, अब एक्‍शन में BCCI, हटाया जा सकता है ये बड़ा नाम

टीम मैनेजमेंट पर बरसे सुनील गावस्‍कर, एमएस धोनी को लेकर दिया बड़ा बयान

इंग्‍लैंड में फंस गई है टीम इंडिया, वर्ल्‍ड कप फाइनल होने के बाद ही लौट पाएगी वतन