स्टिंग में फंसे जैकी, विवेक ऑबरॉय, राजू, मीका और अभिजीत, बिकाऊ बॉलीवुड का हैरान करने वाला सच

Share this on WhatsAppनई दिल्‍ली। एक समय था जब बॉलीवुड कलाकार राजनीति से दूरी बनाकर रखते थे, लेकिन सोशल मीडिया के इस दौर में एक नई तस्‍वीर उभरकर सामने आई है. इन दिनों टीवी चैनलों, सोशल मीडिया और अखबारों में बॉलीवुड कलाकारों के विचार लगातार सुर्खियों में बने रहते हैं, लेकिन अगर आपसे कहा जाए […]

नई दिल्‍ली। एक समय था जब बॉलीवुड कलाकार राजनीति से दूरी बनाकर रखते थे, लेकिन सोशल मीडिया के इस दौर में एक नई तस्‍वीर उभरकर सामने आई है. इन दिनों टीवी चैनलों, सोशल मीडिया और अखबारों में बॉलीवुड कलाकारों के विचार लगातार सुर्खियों में बने रहते हैं, लेकिन अगर आपसे कहा जाए कि जिन बॉलीवुड कलाकारों की राय आप बड़े ध्‍यान से सुनते हैं, वह उनकी नहीं होती हैं तो आपको कैसा लगेगा? बॉलीवुड फिल्म की तरह यहां भी मामला स्क्रिप्‍ट और एक्टिंग के जैसा है. जैसे बॉलीवुड एक्‍टर्स को फिल्म की शूटिंग के वक्‍त स्क्रिप्‍ट दी जाती है, जिसके हिसाब से वे एक्टिंग कर देते हैं. ठीक उसी तरह बॉलीवुड एक्‍टर्स के पॉलिटिकल व्‍यूज भी स्क्रिप्‍टेड होते हैं. एक्‍टर्स अपने सोशल मीडिया अकाउंट, चैनलों और अखबारों में बेबाकी से बात करते हैं, लेकिन असल में वे वही बोल रहे होते हैं, जिसके लिए उन्‍हें पैसे मिले हैं. कोबरा पोस्‍ट ने सनी लियोनी, जैकी श्रॉफ, राजू श्रीवास्‍तव, सुनील पॉल समेत 36 एक्‍टर्स का स्टिंग किया है, जिसमें बिकाऊ बॉलीवुड का पूरा सच खुलकर सामने आ गया है.

स्टिंग ऑपरेशन में चर्चित फिल्म स्टार सनी लियोनी खुलकर ये कह रही हैं कि उन्हें बीजेपी के पक्ष में सोशल मीडिया पर प्रचार करने में बेहद खुशी होगी.
सनी लियोनी- मोदी सर ने डेनियल को ओवरसीज सिटिजन बनाया. हम जरूर सपोर्ट करेंगे.

बॉलीवुड के दिग्गज जैकी श्रॉफ राजनीतिक दल के लिए प्रचार के बदले संबंधित पार्टी से तिजोरी का दरवाजा खोलने की मांग करते हैं.

जैकी श्रॉफ- जब मैं अपने दिल का दरवाजा खोल रहा हूं तो आप अपनी तिजोरी का दरवाजा खोलने में क्यों संकोच कर रहे हो?

पॉलिटिकल प्रचार के बदले पैसों के लेन-देन में विवेक ऑबेरॉय भी बड़ी हड़बड़ी में दिखे. वह अपनी व्यस्तता का हवाला देते हुए सियासी प्रचार के लिए पैसों से जुड़ी सभी औपचारिकताएं जल्द से जल्द से पूरी करने पर बार-बार जोर दे रहे थे।

प्ले बैक सिंगर अभिजीत भट्टाचार्य भी बीजेपी के पक्ष में प्रचार करने के लिए खुला ऑफर दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि मोबाइल फोन पर वीडियो के जरिए बीजेपी के पक्ष में प्रचार करने के लिए वो पूरी तरह से तैयार हैं.

जब अंडर कवर रिपोर्टर स्टैंड अप कॉमेडियन सुनील पाल के पास पहुंचे तो वो शुरू में खुलने से परहेज करते रहे. लेकिन फिर उन्होंने तफसील से अपनी लोकप्रियता के चर्चे किए और लेन-देन के संकेत भी दिए. पढ़िए स्टिंग में सुनील पाल से हुई बातचीत का एक हिस्सा

रिपोर्टर – फिर भी बताइए, कितना लेंगे ?

सुनील पाल – बीजेपी इतनी बडी पार्टी है कि इनसे जितना, वो तो दुनिया से उन्होंने इतना लिया है कि क्या कहें.

रिपोर्टर – अरे सर, पब्लिकली न बोल दीजिएगा.

सुनील पाल – देखिए मेरा क्या सीन है कि जब मैं लगूंगा तब तो चौबीसो घंटे हमें कुछ न कुछ आइडिया आते रहते हैं. देखिए मेरा क्या है कि मैं कहीं जाता हूं तो जो लोग होते हैं वो तो होते ही हैं, इसके अलावा लोकल केबल से प्रसारण होता है तो समझिए 20 से 25 लाख लोगों तक वो बात जाती है.

रिपोर्टर – तो उसमें मतलब बीजेपी…

पाल – हां वही तो कह रहा हूं. उसी में मोदी की बात कह दी, अमित शाह की बात कह दी तो वो बातो तो जाती ही है न. इसके अलावा कहीं उदघाटन में जाता हूं, किसी किसी प्रोग्राम में जाता हूं तो एक-दो लाइन बोल दूंगा.

अंडरकवर रिपोर्टर ने कॉमेडियन राजू श्रीवास्‍तव से कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी को निशाना बनाने के लिए कहा.  राजू श्रीवास्‍तव स्टिंग में यह भी कहते हैं कि

रिपोर्टर- ट्वीट के हिसाब से लेते हैं?

राजू श्रीवास्‍तव- मैं एक ट्वीट के हिसाब से पैसा नहीं लेता. ट्वीट की गिनती हम लोग नहीं करते हैं. मंथली लेता हूं, 10 लाख एक कंपनी के हिसाब से.

रिपोर्टर- थोड़ा सा आपको बैलेंस भी रखना है.

राजू श्रीवास्‍तव- हां वो तो मैं समझ गया. डायरेक्‍ट तो नहीं रहेगा.

अंडरकवर रिपोर्टर जब कॉमेडियन राजपाल यादव के पास पहुंचा और अपनी डिमांड रखी तो वह बीजेपी को डिफेंड करने के लिए तैयार हो गए.

राजपाल यादव- इतने अच्‍छे से डिफेंड करूंगा कि आपकी तबियत खुश हो जाएगी.

रिपोर्टर- हमने जो तय किया है 2 लाख रुपये. 9 महीने का कॉन्‍ट्रेक्‍ट रहेगा ये ठीक है ना, उस हिसाब से हर महीने आपको 30 लाख रुपये मिल जाएंगे.
राजपाल यादव- राजपाल यादव हजारों करोड़ का नाम है, इसे दो लाख रुपये में मत खरीदो बे. अगर 750 करोड़ लोग इस दुनिया में हैं तो छोटे भाई का सर्वे करवा लेना. अफगानिस्‍तान, पाकिस्‍तान, बांग्‍लादेश जिम्‍बाब्‍वे, पोलैंड, सूरीनाम, मॉरीशस, ये अपना फिजी, पोलैंड, न्‍यूजीलैंड, इंग्‍लैंड, स्‍कॉटलैंड वेल्‍स जितने भी… कम से कम चार सौ करोड़ आपके भाई का चेहरा जान चुके हैं.’

रिपोर्टर- 30 का ऑफर ठीक रहेगा

राजपाल यादव- 75 कर दो

स्टिंग ऑपरेशन में रिपोर्टर ने मीका सिंह से पूछा, “तो मतलब आपको क्या समझ में आया मतलब कुछ कंफ्यूजन तो नहीं है ना?” इस पर मीका बोले, “नहीं नहीं बस BJP की कैंपेनिंग करनी है ना.” लेकिन रिपोर्टर ने उनसे कैंपेनिंग शब्द का इस्तेमाल करने के लिए मना किया. फिर मीका बोले- अच्छी वाली करनी है रेपो, रेपो बनाना मतलब.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *