पेड़ पर बना है 4 मंजिल का खूबसूरत घर, ये नहीं देखा तो क्या देखा

इस कमाल का जुगाड़ निकालने वाले शख्स का नाम के.पी. सिंह है और उन्होंने कई साल पहले ही उदयपुर में एक पेड़ पर अपना घर बना लिया था.

एक तरफ लोग घर बनाने के लिए जंगलो से पेड़ों को काटकर उनको कॉनक्रीट की इमारतों मे बदल रहे हैं. वहीं उदयपुर के एक इंजीनियर ने 20 साल पहले ही एक ऐसा बीच का जुगाड़ ढूंढ निकाला था जिससे घर भी बन जाएगा और पेड़ों को भी नहीं काटना पड़ेगा. आज हम बात करने जा रहे हैं स्पेशल ट्री हाउस की, जो है बेहद फेमस. ये कमाल का जुगाड़ निकालने वाले शख्स का नाम के.पी. सिंह है और उन्होंने कई साल पहले ही उदयपुर में एक पेड़ पर अपना घर बना लिया था. इस घर को के.पी. सिंह ने सन 2000 में बनाया था और आज 20 साल बाद भी ये आम का पेड़ और घर दोनों सलामत हैं.

के.पी. सिंह कहते हैं कि हमेशा से वो प्रकृती के करीब रहना चाहते थे और अपनी इसी सोच के चलते उनहोंने 87 साल के एक आम के पेड़ को ही अपने सपनों का घर बनाने का फैसला कर लिया. आपको जानकर हैरानी होगी कि सिंह ने कोई छोटा मोटा घर नहीं बल्कि 4 मंजिला घर बनाया है. जिस पेड़ पर ये 4 मंजिला घर बना है उसकी ऊंचाई लगभग 39 फीट है. सिंह ने अपने घर में किसी भी प्रकार का कोई वुडवर्क नहीं कराया है और ना ही उन्होंने इस पेड़ की एक भी टहनी को काटा है.

क्या है इस घर की खासियत
के.पी. सिंह बताते हैं कि इस घर को बनाने के लिए सेल्यूलर शीट, फाइबर स्टील स्ट्रक्चर का इस्तेमाल किया गया है. इस घर को पेड़ की टहनियों के आकार को देखते हुए ही बनाया गया है. घर में इलेक्ट्रॉनिक सीढ़ियों से लेकर हर तरह की मॉडर्न सुविधाएं मौजूद है. घर में पेड़ की टहनियों को ही इस तरह इस्तेमाल किया गया है, जिससे की सोफे और टीवी स्टैंड जैसी चीजों की भी जरूरत नहीं महसूस होगी.

हवा के साथ झूलता है घर
इस ट्री हाउस की एक खास बात और है, क्योंकि ये घर पेड़ पर बना है, तो जब भी तेज हवा चलती है या आंधी आती है तो पेड़ के साथ घर भी झूलता है. उदयपुर ही नहीं देशभर में ये ट्री हाउस काफी फेमस है और बहुत से लोग जब भी उदयपुर आते हैं, तो इसे देखने जरूरत जाते हैं.

Related Posts