• Home  »  अभी अभीखेलटॉपदेश   »   INDvsAUS: मुकाबले का वो टर्निंग प्वाइंट जिसने भारत को दिलाई कंगारुओं पर जीत

INDvsAUS: मुकाबले का वो टर्निंग प्वाइंट जिसने भारत को दिलाई कंगारुओं पर जीत

फाइनल मुकाबले में टॉस हारने के बाद स्टीव स्मिथ के शानदार शतक के बावजूद ऑस्ट्रेलिया को 50 ओवरों में नौ विकेट पर 286 रनों पर सीमित किया.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 11:08 pm, Sun, 19 January 20

भारतीय क्रिकेट टीम ने रविवार को एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले गए तीसरे और अंतिम वनडे मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को सात विकेट से हरा दिया. इसी के साथ भारत ने तीन मैचों की सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली.

फाइनल मुकाबले में टॉस हारने के बाद स्टीव स्मिथ के शानदार शतक के बावजूद ऑस्ट्रेलिया को 50 ओवरों में नौ विकेट पर 286 रनों पर सीमित किया. भारत की ओर से मोहम्मद शमी ने चार विकेट लिए.

इसके बाद भारत ने सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के शानादार 119 तथा कप्तान विराट कोहली के 89 रनों की बदौलत 47.3 ओवरों में तीन विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया. श्रेयस अय्यर 35 गेंदों पर छह चौकों और एक छक्के की मदद से 44 रन बनाकर नाबाद लौटे.

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एरॉन फिंच का यह फैसला क्रिकेट फैंस को चौंकाने वाला था. भारतीय टीम ने हाल में पीछा करते हुए ज्यादा मैच जीते हैं. ऐसे में फिंच का पहले बल्लेबाजी करने का फैसला मुकाबले का टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ.

ऑस्ट्रेलिया ने स्टीवन स्मिथ के शानदार शतक की मदद से 50 ओवरों में नौ विकेट पर 286 रनों का स्कोर बनाया. आस्ट्रेलिया की शुरुआत खराब रही और मेहमान टीम ने 8.5 ओवर में 46 रन तक अपने दोनों ओपनरों- डेविड वार्नर और कप्तान एरॉन फिंच के विकेट गंवा दिया.

स्मिथ और अपना तीसरा वनडे खेल रहे मार्नश लाबुशैन ने तीसरे विकेट के लिए 127 रनों की साझेदारी करके आस्ट्रेलिया को मजबूती दी. ऑस्ट्रेलिया ने फिर 173 के स्कोर पर ही लाबुशैन और बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजे गए मिशेल स्टार्क के रूप में लगातार दो विकेट खो दिए.

दोनों बल्लेबाजों को रवींद्र जडेजा ने अपना शिकार बनाया. लाबुशैन ने 64 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से अपने करियर का पहला अर्धशतक पूरा किया. लाबुशैन का आउट होना मैच का एक और टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ. भारतीय टीम ने यहां ऑस्ट्रेलिया के स्कोर को रोकने में सफलता पाई.

भारत की ओर से मोहम्मद शमी ने सर्वाधिक चार, जडेजा ने दो और नवदीप सैनी तथा कुलदीप यादव ने एक-एक विकेट झटके. भारत को यह मुकाबला जीतने के लिए कुछ खास संघर्ष नहीं करना पड़ा.

ये भी पढ़ें-

INDvsAUS: विराट कोहली ने तोड़ा धोनी का रिकॉर्ड, बनाए बतौर कप्तान सबसे तेज 5 हजार रन

INDvsAUS: हिटमैन का सुपरहिट धमाका, लारा, गांगुली, तेंदुलकर का ये रिकॉर्ड तोड़ा