1 जून से Ration Card के बदल जाएंगे नियम

इस योजना के तहत PDS लाभार्थियों की पहचान की जाएगी और उनके आधार कार्ड पर इलेक्ट्रिक प्वाइंट ऑफ सेल (Pos) से योजना का लाभ दिया जा सकेगा. इस योजना को लागू करने के लिए सरकार को देश की सभी राशन दुकानों पर पीडीएस मशनें लगानी है.
One nation one ration card scheme will be launched from 1st June, 1 जून से Ration Card के बदल जाएंगे नियम

आगामी 1 जून से राशन कार्ड धारकों के लिए नियमों में बदलाव होना है, ऐसे में अगर आप राशन कार्ड (Ration Card) धारक हैं तो इसके नए नियमों के बारे में जरूर जान लें. सरकार 1 जून से राशन पोर्टेबिलिटी सेवा यानी ‘एक राष्ट्र एक राशन कार्ड’ योजना लागू करने जा रही है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

वन नेशन वन राशन कार्ड (One Nation, One Ration Card) योजना देश भर में जारी लॉकडाउन (Lockdown) के लिहाज से काफी अहम साबित हो सकती है, क्योंकि इसकी मदद से राशन कार्ड  (Ration Card) धारक देश के किसी भी हिस्से में रियायती दरों पर राशन प्राप्त कर सकता है. अब तक राशन कार्ड धारक जिस जिले से राशन कार्ड बनवाता था सिर्फ वहीं इस योजना का लाभ ले सकता था. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) केंद्र सरकार से पहले ही योजना को देशभर में जल्द लाने के लिए कह चुकी है.

20 राज्य/केंद्रशासित प्रदेश योजना में शामिल

ऐसे में उन गरीब, कामगारों को भी राहत मिल सकती है जो देश के दूसरे हिस्से में होने के चलते सरकार की रियायती योजनाओं का लाभ लेने से वंचित रह जाते हैं. इस योजना की शुरुआत 20 राज्यों से होनी है, जिसमें से 17 राज्य/केंद्र शासित राज्य पहले ही इस योजना में शामिल हो चुके हैं, जबकि तीन अन्य राज्य ओडिशा, मिजोरम और लागालैंड भी इस योजना का हिस्सा बनने के लिए तैयार हो गए हैं.

ऐसे होगी लाभार्थियों की पहचान

इस योजना के तहत PDS लाभार्थियों की पहचान की जाएगी और उनके आधार कार्ड पर इलेक्ट्रिक प्वाइंट ऑफ सेल (Pos) से योजना का लाभ दिया जा सकेगा. इस योजना को लागू करने के लिए सरकार को देश की सभी राशन दुकानों पर पीडीएस मशनें लगानी है. इस योजना को राज्यों में लगने वाली पीओएस मशीनों को विस्तार दिया जाएगा.

नहीं बनवाना होगा नया राशन कार्ड

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको कोई नया राशन कार्ड नहीं बनवाना होगा और न ही पुराना राशन कार्ड जमा करना होगा. आप अपने पुराने राशन कार्ड के जरिए इस योजना का लाभ ले सकेंगे. ये राशन कार्ड दो भाषाओं में जारी किया जाएगा जिसमें एक स्थानीय भाषा, जबकि दूसरी भाषा हिंदी या अंग्रेजी होगी. इस योजना के तहत 3 रुपये किलो की दर से राशन कार्ड धारक को चावल जबकि 2 रुपये किलो की दर से गेहूं मिल सकेगा.

वहीं अगर आपके पास अभी तक राशन कार्ड नहीं है तो कोई बात नहीं इस छोटी सी प्रक्रिया को अपनाकर आप राशन कार्ड के लिए ऑनलाइन एप्लाई कर सकते हैं.

ऐसे ऑनलाइन एप्लाई करें राशन कार्ड

  • सबसे पहले आपको अपने राज्य के खाद्य विभाग की वेबसाइट पर जाना होगा.
  • यहां भाषा के चुनाव के बाद कुछ पर्सनल जानकारी भरनी है, जिसमें जिला, कस्बा, ग्राम पंचायत आदि शामिल हैं.
  • इससे बाद आपको कार्ड का प्रकार चुनना होगा.
  • इसके बाद आपसे कुछ पर्सनल जानकारी मांगी जाएगी, जिसमें परिवार के मुखिया का नाम, आधार कार्ड डिटेल, वोटर आईडी और मोबाइल नंबर शामिल होगा.
  • इसके बाद सबमिट पर क्लिक करने के बाद उसका प्रिंट निकाल लें. इस प्रिंट को आप अपने पास रख लें.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts